WhatsApp फैक्ट चेक लॉन्च, ये है स्टेप-बाइ-स्टेप गाइड

WhatsApp Fact Check वॉट्सऐप ने भारत में अपने फैक्ट चेकिंग सर्विस की शुरुआत की है. इस नई सेवा के तहत आप फेक मैसेज की फैक्ट चेकिंग कर सकते हैं. इसके लिए वॉट्सऐप ने एक नंबर को जारी किया है.

Photo For Representation
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 03 अप्रैल 2019,
  • अपडेटेड 1:44 PM IST

आगामी लोकसभा चुनवों को ध्यान में रखकर फेसबुक के स्वामित्व वाले WhatsApp ने भारत में एक फैक्ट सर्विस की सुविधा लॉन्च की है. ऐसा पहली बार है जब वॉट्सऐप ने फैक्ट चेक की सुविधा विश्व के किसी हिस्से में शुरू की है. इस सुविधा का लाभ लेने के लिए आपको फेक मैसेज को Checkpoint Tipline पर भेजना होगा, जो आपके फेक मैसेज वेरिफाई करेगा.

Checkpoint Tipline फैक्ट चेक करने वाली एक भारतीय स्टार्टअप है. यहीं खबरों की फैक्ट चेकिंग की जाएगी. फैक्ट चेकिंग के लिए वॉट्सऐप की ओर से 9643000888 नंबर को जारी किया गया है. यहां हम आपको स्टेप बाय स्टेप बताने जा रहे हैं कि इस सुविधा का लाभ कैसे लिया जा सकता है.

- सबसे पहले आपको अपने कॉन्टैक्ट लिस्ट में 9643000888 नंबर को किसी भी नाम से सेव करना होगा.

- फिर आप वॉट्सऐप में जाकर इस कॉन्टैक्ट को सर्च करना होगा. इसके लिए आप वॉट्सऐप कॉन्टैक्ट लिस्ट को रिफ्रेश कर सकते हैं. यहां आपको चेकपॉइंट का ऑफिशियल वेरिफाइड अकाउंट नजर आएगा.

- फैक्ट चेक 5 भाषाओं को सपोर्ट करता है. इसमें इंग्लिश, हिंदी, तेलुगू, बंगाली और मलयालम शामिल हैं.

- आपको जिस भी मैसेज पर शक है उसे ऊपर बताई गई किसी भी भाषा में दिए गए नंबर पर भेज सकते हैं. यहां आप टेक्स्ट, वीडियो और इमेज को सेलेक्ट कर सकते हैं.

- यहां मैसेज भेजे जाने के बाद टीम मैसेज को चेक करेगी. जो फर्जी खबर होगी उसे False, Misleading या Disputed की मार्किंग दी जाएगी. वहीं सही खबर को True का लेबल दिया जाएगा.

वॉट्सऐप फेक न्यूज पर लगाम लगाने के लिए लगातार प्रयासरत है. कंपनी टीवी समेत अखबारों में कई विज्ञापन जारी कर लोगों से अफवाहों और झूठी खबरों से बचने की सलाह दे रही है. साथ ही कंपनी ने मैसेज फॉर्वर्ड करने की लिमिट भी कम कर दी है. अब केवल एक साथ 5 लोगों को ही मैसेज फॉर्वर्ड किया जा सकता है.

Read more!

RECOMMENDED