मोबाइल में फर्जी मैसेज से परेशान हैं? Google ने ढूंढा इसका उपाय

Google Verified Messages फीचर भारत सहित कई देशों के लिए शुरू किया जा रहा है. SMS में अनसेफ लिंक के बारे में एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स यूजर्स को अगाह किया जाएगा.

Representational Image
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 13 दिसंबर 2019,
  • अपडेटेड 12:24 PM IST

अगर आप एंड्रॉयड स्मार्टफोन यूज करते हैं तो गूगल ने आपके लिए एक काम का फीचर जारी किया है.  आम तौर पर पूरे दिन में स्मार्टफोन्स में स्पैम मैसेज की भरमार होती है. कई एसएमस आपको प्रभावित भी करते हैं और आपसे बैंकिंग से जुड़े संवेदनशील जानकारियां भी मांगते हैं.

कई बार ऐसा होता है कि आपको ये समझने में मुश्किल होती है कि जो मैसेज आपके मोबाइल पर आया है वो असली है या नकली. इसे पहचानने के लिए गूगल ने वेरिफाइड एसएमस और स्पैम प्रोटेक्शन की शुरुआत की है जो मैसेजेज के लिए है.

Verified SMS का ये फीचर भारत सहित अमेरिका, मैक्सिको, ब्राजील, ब्रिटेन, फ्रांस, स्पेन और कनाडा जैसे देशें में शुरू किया जा रहा है. किसी मैसेज में अगर कोई ऐसा लिंक आता है जो आपके लिए सेफ नहीं है तो मैसेज में ही आपको इसके बारे में जानकारी मिलेगी कि ये लिंक अनसेफ है.

Google ने कहा है, 'स्पैम प्रोटेक्शन के साथ हम आपको सस्पेक्टेड स्पैम और अनसेफ वेबसाइट के बारे में अगाह करेंगे. अगर आप कोई सस्पेक्टेड स्पैम वॉर्निंग मैसेज देखते हैं तो ये समझने में हमारी मदद कर सकते हैं कि ये स्पैम  है या नहीं'

गूगल ने कहा है कि शुरुआत में कुछ बिजनेस ने इस वेरिफाइड SMS के लिए साइन अप किया है. भारत में फिलहाल Google Pay और गूगल के वेरिफेशन कोड्स को Verified SMS के लिए एनरॉल किया जा रहा है. शुरुआत में अगर किसी कंपनियों की तरफ से ऐसे मैसेज आते हैं जो सही नहीं हैं तो आपको मैसेज में गूगल की तरफ से वॉर्न किया जाएगा.  

Read more!

RECOMMENDED