वर्ल्ड कप में पाक से नहीं हारा भारत तो, ईडन में भारत से नहीं हारा पाक

टीम इंडिया शनिवार को क्रिकेट का 'मक्का' कहे जाने वाले ऐतिहासिक ईडन गार्डन्स स्टेडियम में वर्ल्ड टी-20 के ग्रुप मुकाबले में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से भिड़ेगी.

विराट कोहली और शाहिद अफरीदी
सूरज पांडेय
  • कोलकाता,
  • 19 मार्च 2016,
  • अपडेटेड 6:52 PM IST

टीम इंडिया शनिवार को क्रिकेट का 'मक्का' कहे जाने वाले ऐतिहासिक ईडन गार्डन्स स्टेडियम में वर्ल्ड टी-20 के ग्रुप मुकाबले में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से भिड़ेगी. अपने पहले ही मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ हार झेलने के बाद भारतीय टीम ये मैच हर हाल में जीत चाहेगी. वहीं दूसरी ओर आईसीसी के किसी भी टूर्नामेंट में अब तक भारत को नहीं हरा पाई पाकिस्तानी टीम इस बार इतिहास बदलने उतरेगी. इस लिहाज से इस मैच में जोरदार टक्कर होने की संभावना है.

हर हाल में जीतना चाहेगा भारत भारत को सेमीफाइनल की रेस में बने रहने के लिए हर हाल में यह मैच जीतना होगा. अगर भारतीय टीम यह मैच हार जाती है तो उसे अगले दोनों मैचों मे जीत दर्ज करने के साथ ही दूसरी टीमों के परिणाम पर भी निर्भर रहना होगा. अपने पिछले मैच में नागपुर की स्पिनरों की मददगार विकेट पर भारतीय बल्लेबाजी न्यूजीलैंड के स्पिनरों के सामने ढह गई थी जिसके चलते टीम ने ये मैच 47 रनों से गंवा दिया था.

तेज गेंदबाजों की मददगार है पिच हालांकि ईडन की पिच नागपुर की तरह नहीं होगी लेकिन इस पर अक्सर तेज गेंदबाजों को मदद मिलती है. भारतीय टीम की बल्लेबाजी काफी हद तक रोहित शर्मा, कोहली, युवराज और कप्तान धोनी पर ज्यादा निर्भर है. रोहित ईडन गार्डन्स स्टेडियम पर हमेशा ही अच्छा खेले हैं और वह चाहेंगे कि वो इस बार भी यहां रन बरसाएं. इस मैच में पाकिस्तानी तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर, का रोहित से मुकाबला देखने लायक होगा.

पाक पेसर्स से निपटना है बड़ी चुनौतीआमिर के अलावा पाकिस्तान के पास मोहम्मद इरफान और वहाब रियाज के रूप में दो बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं. इनसे निपटना भी भारतीय बल्लेबाजों के लिए कड़ी चुनौती है. दूसरी तरफ पाकिस्तान के लिए सबसे बड़ी चुनौती विराट कोहली से निपटने की होगी. उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ हमेशा अच्छा प्रदर्शन किया है. पाक के खिलाफ कोहली का औसत 66.33 का हैं.

मिडिल ऑर्डर का ना चलना चिंता की बातइस मैच में कप्तान धोनी के लिए सबसे बड़ी चिंता मध्य क्रम के बल्लेबाज सुरेश रैना का न चलना है. भारतीय प्रशंसक धोनी को निचले क्रम में तेजी से रन बनाते देखना पसंद करेंगे. टीम की गेंदबाजी अभी तक अच्छी रही है. आशीष नेहरा, जसप्रीत बुमराह लगातार टीम को ब्रेकथ्रू दिलाते रहे हैं. अश्विन और पंड्या ने भी इन दोनों का भरपूर साथ दिया है.

अच्छी फॉर्म में है पाकिस्तानी टीमएशिया कप में भारत से मिली हार को पीछे छोड़ते हुए पाकिस्तानी टीम ने वर्ल्ड टी20 में अपने अभियान की शानदार शुरुआत की है. इन्होंने अपने पहले मैच में बांग्लादेश को मात दी थी. अहमद शहजाद के आने के बाद से टीम की बल्लेबाजी पहले से ज्यादा मजबूत हो गई है. कप्तान शाहिद अफरीदी ने बांग्लादेश के खिलाफ महज 19 गेंदों में 49 रनों की पारी खेल अपने तूफानी अंदाज में लौटने के संकेत दे दिए हैं, जो भारत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. इन दोनों के अलावा मोहम्मद हफीज, जिन्होंने पिछले मैच में अर्धशतक जड़ा है भी भारत के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं.

इस मैच में टूटेगा रिकॉर्डभारत को अगर बिना किसी परेशानी के वर्ल्ड टी20 के सेमीफाइनल में पहुंचना है तो उसे हर मैच जीतना जरूरी है. इतिहास की ओर देखें तो वर्ल्ड टी-20 या 50 ओवर के वर्ल्ड कप में भारत अभी तक पाकिस्तान से नहीं हारा है. लेकिन इसके उलट ईडन गार्डन्स स्टेडियम का इतिहास पाकिस्तान के पक्ष में है. यहां पाकिस्तान कभी भारत से नहीं हारा है.

टीमें इस प्रकार हैं

भारतमहेन्द्र सिंह धोनी (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, सुरेश रैना, युवराज सिंह, अजिंक्य रहाणे, रविन्द्र जडेजा, हार्दिक पंड्या, रविचन्द्रन अश्विन, हरभजन सिंह, जसप्रीत बुमराह, आशीष नेहरा, पवन नेगी और मोहम्मद शमी.

पाकिस्तानशाहिद अफरीदी (कप्तान), मोहम्मद हफीज, शारजील खान, अहमद शहजाद, उमर अकमल, खालिद लतीफ, शोएब मलिक, सरफराज अहमद, अनवर अली, इमाद वसीम, मोहम्मद नवाज, वहाब रियाज, मोहम्मद आमिर, मोहम्मद इरफान और मोहम्मद समी.

Read more!

RECOMMENDED