किस टीम ने सबसे ज्यादा बार ठोके 350 से ज्यादा रन, किसने किया कामयाबी से पीछा?

इंग्लैंड के लाइनअप में नीचे तक जबरदस्त बल्लेबाज हैं उनके 6ठें और सातवें नंबर के बल्लेबाज भी 3 अंतरराष्ट्रीय शतक जमा चुके हैं. इस पावर पैक्ड लाइनअप में मॉर्गन, जॉनी बेयरस्टो, जो रुट, जॉस बटलर जैसे जानदार बल्लेबाज है. ये कोई पहला मौका नहीं है इंग्लैंड पहले भी ऐसे स्कोर बना चुका है.

टीम इंडिया (PHOTO- BCCI)
अजीत तिवारी
  • नई दिल्ली,
  • 19 जून 2019,
  • अपडेटेड 7:09 PM IST

अफगानिस्तान के खिलाफ इंग्लैंड के कप्तान इयान मॉर्गन की 71 गेंदों पर 148 रनों की धाकड़ पारी ने उन्हें 150 रनों की जीत दिलाई. इंग्लैंड ने अफगानिस्तान के खिलाफ 397/6 का विशाल स्कोर खड़ा किया. इस विश्व कप में ये दूसरा मौका है जब अंग्रेजों ने अपने विरोधियों के खिलाफ 350+ का स्कोर खड़ा किया हो.

इंग्लैंड के लाइनअप में नीचे तक जबरदस्त बल्लेबाज हैं उनके 6ठें और सातवें नंबर के बल्लेबाज भी 3 अंतरराष्ट्रीय शतक जमा चुके हैं. इस पावर पैक्ड लाइनअप में मॉर्गन, जॉनी बेयरस्टो, जो रुट, जॉस बटलर जैसे जानदार बल्लेबाज है. ये कोई पहला मौका नहीं है इंग्लैंड पहले भी ऐसे स्कोर बना चुका है.

इंडिया टुडे डाटा इंटेलिजेंस टीम ने इस विश्व कप में हिस्सा ले रही दसों टीमों के 2015 के बाद के प्रदर्शन का विश्लेषण किया. जिससे ये पता लग सके कि किसने 350 से ज्यादा रन ठोंके और किसने सबसे ज्यादा जीत दर्ज की.हमने ये भी परखा कि किन टीमों के खिलाफ ये स्कोर बने और किस टीम ने इस स्कोर का कामयाबी से पीछा किया.

इन टीमों के हैं 350+ रन

हैरानी की बात नहीं है कि इंग्लैंड ने 12 मैचों में 350 से ज्यादा रन बनाये. इंग्लैंड ने इस दौरान दो बार सबसे ज्यादा रनों का वनडे रिकॉर्ड तोड़ा. 2016 में नॉटिंघम में इंग्लिश टीम ने  पाकिस्तान के खिलाफ 444/3 रन ठोंके और श्रीलंका के 443/9 का रिकॉर्ड तोड़ा. वहीं 2018 में तो हद ही हो गई , ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इसी मैदान में इंग्लैंड ने 481 रनों का अंबार खड़ा कर दिया.

इंग्लैंड के बार दक्षिण अफ्रीका और भारत का नंबर आते हैं. दक्षिण अफ्रीका ने 8 तो भारत ने 6 बार 350 का आंकड़ा पार किया है. दक्षिण अफ्रीका अपने सारे मैच जीते तो भारत और इंग्लैंड साढ़े 3 सौ रन बनाने के बाद भी 1-1 मैच गंवा बैठे.

मजे की बात ये है कि इंग्लैंड के खिलाफ भी कई बार ऐसे भारी भरकम स्कोर बने. इंग्लैंड, पाक और श्रीलंका के खिलाफ विरोधियों ने 7 बार 350 से ज्यादा रन बनाए. इंग्लैंड ने 3 बार ये स्कोर पार कर लिया लेकिन श्रीलंका और पाकिस्तान हर बार नाकाम रहे.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी 4 बार 350+ रन बने वो भी सिर्फ एक बार ही ऐसा मैच जीत पाई. 2015 विश्व कप के बाद से अबतक भारत और दक्षिण अफ्रीका दो बार 350 से ज्यादा रनों का पीछा कर जीत दर्ज कर चुके हैं.

Read more!

RECOMMENDED