साइंस न्यूज़

Death Valley: दुनिया के सबसे सूखे और गर्म इलाके में अचानक आई बाढ़, लोगों की हालत खराब

aajtak.in
  • डेथ वैली,
  • 08 अगस्त 2022,
  • अपडेटेड 11:55 PM IST
  • 1/8

अमेरिका में हाल ही में कैलिफोर्निया (California) के डेथ वैली नेशनल पार्क (Death Valley National Park) दुनिया के सबसे सूखे और सबसे ज्यादा तापमान वाले इलाके के रूप में जाना जाता है. यहां इस साल पिछले हफ्ते से पहले तक सिर्फ 0.04 इंच बारिश हुई थी. लेकिन 6 अगस्त 2022 की सुबह अचानक न जाने क्या हुआ कि साल भर की बारिश एकसाथ हो गई. फ्लैश फ्लड आ गया. बाढ़ आ गई. चारों तरफ तबाही ही तबाही देखने को मिली. (फोटोः रॉयटर्स)

  • 2/8

डेथ वैली में अब भी बाढ़ का कहर जारी है. यहां भारी बारिश की वजह से अचानक बाढ़ आ गई जिसमें करीब 1,000 लोग फंस गए और कारों को भारी नुकसान हुआ. पार्क के अधिकारियों का कहना है कि नेवादा-कैलिफोर्निया की सीमा के पास, पार्क के फर्नेस क्रीक इलाके में 1.7 इंच बारिश हुई. उन्होंने कहा कि ऐसा लग रहा है मानो एक ही बार में साल भर की बारिश हो गई हो. (फोटोः रॉयटर्स)

  • 3/8

अधिकारियों का कहना है कि लगभग 60 वाहन बाढ़ के पानी में डूब गए और पार्क में आने वाले 500 लोग और 500 पार्क कर्मचारी बाढ़ में फंस गए. उनका कहना है कि किसी के घायल होने की सूचना नहीं है. कैलिफोर्निया के ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने कहा कि पार्क के मुख्य मार्ग को फ्लैश फ्लड से आए कचरे से साफ करने में छह घंटे लग गए. इसके बाद लोगों को वहां से मुश्किल से निकाला गया. (फोटोः एपी)

  • 4/8

फिलहाल डेथ वैली नेशनल पार्क के सभी मार्ग बंद कर दिए गए हैं. उनकी साफ-सफाई का काम चल रहा है. पूरे पार्क की गहनता से जांच के बाद ही इसे खोला जाएगा. पार्क के अधिकारियों ने कहा कि अचानक बादल छाए. तेज बारिश शुरू हुई और अचानक बाढ़ आ गई. पार्क के अंदर पार्किंग में खड़ी गाड़ियां आपस में टकरा गईं. काफी नुकसान हुआ हालांकि किसी के घायल या जख्मी होने की खबर नहीं मिली. (फोटोः एपी)

  • 5/8

बाढ़ इतनी तेज थी कि कई होटलों के कमरों में और दफ्तरों में पानी घुस गया. बाढ़ की वजह से पार्क के अंदर रहने वाले लोगों और दफ्तरों का वाटर और ड्रेनेज सिस्टम खराब हो गया है. इसे भी ठीक किया जा रहा है. बारिश शुक्रवार की अलसुबह 2 बजे शुरू हुई थी. इसलिए लोगों को अंदाजा ही नहीं लगा कि इसकी भयावहता कितनी होगी. (फोटोः एपी)

  • 6/8

स्थानीय लोगों ने बताया कि उन्होंने आज तक ऐसा प्रचंड मौसम नहीं देखा था. कई लोग तो दशकों से इस इलाके में घूमने-फिरने आते रहे हैं. उन्होंने भी कभी इस तरह का मौसम नहीं देखा. पानी की तेज धार के साथ बड़े-बड़े पत्थर बह कर आ रहे थे. उनकी वजह से पार्क में खड़ी गाड़ियों को काफी नुकसान हुआ है. (फोटोः एपी)

  • 7/8

हालांकि शुक्रवार की दोपहर के बाद फ्लैश फ्लड की चेतावनी और अलर्ट हटा दिया गया था. लेकिन बाढ़ की चेतावनी को रखा गया था. मौसम विज्ञानियों के अनुसार पार्क के आसपास ज्यादा तापमान होने की वजह से पारा 1.1 डिग्री सेल्सियस बढ़ गया था. इस इलाके में हर साल औसत तापमान तेजी से बढ़ रहा है. ये दुनिया का बेहद गर्म और खतरनाक इलाका माना जाता है. (फोटोः एपी)

  • 8/8

हवा में नमी 7 फीसदी बढ़ गई थी. जिसकी वजह से बारिश हुई. जलवायु परिवर्तन की वजह से समुद्री जलस्तर भी तेजी से बढ़ रहा है. इसका असर कैलिफोर्निया के कई इलाकों में पड़ रहा है. अगर समुद्री जलस्तर बढ़ता है तो इससे हवा में नमी बढ़ती है. पिर इससे बारिश होने की आशंका बढ़ जाती है. साल 2050 तक हाई टाइड्स की मात्रा समुद्रों में बढ़ जाएगी. (फोटोः रॉयटर्स)