साइंस न्यूज़

Texas: आसमान से मछलियों की बारिश, हैरान हुए लोग...ये है वैज्ञानिक वजह

aajtak.in
  • टेक्सारकाना (टेक्सास),
  • 02 जनवरी 2022,
  • अपडेटेड 2:12 PM IST
  • 1/10

अचानक से तूफान आए और आसमान से मछलियों की बारिश होने लगे तो आपको कैसा लगेगा. हाल ही में अमेरिका के टेक्सास में स्थित एक कस्बे में ऐसा ही हुआ. इस कस्बे में हुई बारिश के साथ आसमान से मछलियां भी गिर रही थीं. यह कस्बा अरकन्सास की सीमा पर स्थित है. लोगों ने मौके का फायदा भी उठाया. मछलियों को जमा करके घर ले गए. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 2/10

आसमान से जब मछलियों की बारिश शुरु हुई तो पहले सभी को लगा कि ओला गिर रहे हैं. इसलिए कोई बाहर नहीं निकला. लेकिन जब बारिश थमी, तब लोगों ने देखा कि यह कोई सामान्य बारिश नहीं थी. पूरे टेक्सारकाना कस्बे में चारों तरफ मछलियां पड़ी थीं. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 3/10

द टेक्सारकाना गजट अखबार ने एक टायर बेचने वाली एजेंसी के मैनेजर टॉम ब्रिघम के हवाले से लिखा है कि उन्होंने आसमान से मछलियों को गिरते हुए देखा था. टॉम ने बताया कि यह मछलियों की ओलावृष्टि थी. मौसम तो टॉरनैडो वाला ही था. उनके टायर शॉप के बाहर भी 25-30 मछलियां गिरी पड़ी थी. जिनकी लंबाई 6 से 7 इंच थी. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 4/10

टॉम ने बताया कि पूरे शहर से मछलियों की बू आ रही थी. हवा में चारों तरफ मछलियों की गंध तेजी से फैल गई थी. ऐसे लग रहा था कि कोई मछली बाजार में खड़ा हो. टॉम ने कहा कि उन्होंने फिर कुछ कर्मचारियों को मछलियां उठाने के लिए भेजा, ताकि कोई गलती से उनपर पैर रखकर गिर न पड़े. इससे चोट लग सकती है. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 5/10

टॉम ब्रिघम ने बताया कि इन मछलियों के सिर फटे हुए थे. जो यह बताता है कि ये बहुत ऊंचाई से गिरी थी. क्योंकि ये कॉन्क्रीट पर गिरने के बाद कुछ सेकेंड्स ही उछलकूद मचा पा रही थी, उसके बार मर जा रही थीं. कस्बे के लोगों ने इन छोटी मछलियों को जमा करके रख लिया ताकि वो बड़ी मछली फंसाने के लिए इन्हें कांटे में लगा सकें. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 6/10

ऐसा ही नजारा एक कार कंपनी की डीलरशिप के सामने और टाइगर स्टेडियम में भी था. टाइगर स्टेडियम में बारिश से ठीक पहले सॉकर टीम प्रैक्टिस कर रही थी. बारिश में थोड़ी देर प्रैक्टिस करने के बाद जब मछलियां गिरने लगी तब खिलाड़ियों को घर की ओर जाना पड़ा. किसी एक खिलाड़ी ने बारिश के दौरान मछली पर भी किक मारा था, क्योंकि वह अचानक उसके पैरों के सामने आ गिरी थी. इसके बाद ही प्रैक्टिस मैच बंद कर दिया गया था. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 7/10

टेक्सारकाना के समरहिल रोड पर तीन स्थानों पर मछलियों की बारिश हुई थी. कुछ लोगों ने बताया कि अरकन्सास राज्य की सीमाओं के आसपास के इलाकों में मछलियों की बारिश रिकॉर्ड की गई है. पहले तो टेक्सारकाना के लोगों को लगा कि नए साल पर कोई उनके साथ मजाक कर रहा है. लेकिन असल में यह एक वैज्ञानिक प्रक्रिया है. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 8/10

असल में जब टॉरनैडो समुद्र से होते हुए जमीन की तरफ आता है, तब वह अपने साथ छोटी मछलियों, मेंढकों, केकड़ों और अन्य जीवों को लाकर जमीन पर गिरा देता है. ऐसा कई बार वॉटरस्पाउट (Waterspout) के बनने से भी होता है. तूफान समुद्र के ऊपर बना. उससे निकले टॉरनैडो में मछलियां फंसी. जमीन पर पहुंचते ही टॉरनैडो कमजोर हुआ और बारिश के साथ मछलियां जमीन पर रिलीज हो गई. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 9/10

नेशनल वेदर सर्विस के मौसम विज्ञानी गैरी शैटलियन ने कहा कि यह ठीक वैसा ही है जैसे हवा का झोंका कचरे को एक जगह से उठाकर दूसरी जगह गिरा देता है. इस टॉरनैडो ने लेक टेक्सोमा से मछलियों को उठाया होगा. क्योंकि तूफान आने पर समुद्री जीव-जंतु गहराई में चले जाते हैं. लेकिन नदियों और झीलों के जीव ऐसा करने में पिछड़ जाते हैं और वो तूफानों में फंस जाते हैं. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

  • 10/10

गैरी शैटलियन कहते हैं कि यह एक दुर्लभ प्रक्रिया है, जो कम ही देखने को मिलती है. दुर्लभ इसलिए क्योंकि इसके होने की प्रक्रिया काफी जटिल और मौके की तलाश से जुड़ी होती है. तूफान आते हैं. टॉरनैडो आते रहते हैं. लेकिन उनमें छोटे जीवों का फंसकर एक जगह से दूसरी जाकर गिरना यह दुर्लभ हो जाता है. (प्रतीकात्मक फोटोः गेटी)

लेटेस्ट फोटो