साइंस न्यूज़

Egypt: 2500 साल पुराने झुमके समेत प्राचीन खजाना मिला, 250 ताबूत भी शामिल

aajtak.in
  • काहिरा,
  • 01 जून 2022,
  • अपडेटेड 8:16 PM IST
  • 1/7

काहिरा (Cairo) के पास काम कर रहे पुरातत्वविदों को करीब 2500 साल पुराने मिस्र के सैकड़ों प्राचीन ताबूत (Egyptian coffins) और देवी-देवताओं की कांसे की मूर्तियां मिली हैं. ताबूतों में ममी (Mummies) और बाकी सामान सुरक्षित है (Photo: AP)

  • 2/7

मिस्र के पर्यटन मंत्रालय का कहना है कि सक्कारा (Saqqara) के एक कब्रिस्तान में खोज की गई थी, जहां अनुबिस (Anubis), अमुन (Amun), मिन (Min), ओसिरिस (Osiris), आइसिस (Isis), नेफर्टम (Nefertum), बासटेट (Bastet) और हाथोर (Hathor) नाम के देवी-देवताओं की मूर्तियां मिली हैं.  (Photo: AP)

  • 3/7

इसके साथ-साथ, वास्तुकार इम्होटेप (Imhotep) की एक बिना सिर वाली मूर्ति भी मिली है, जिसने सक्कारा पिरामिड बनाया था. इस खोज में देवी आइसिस की पूजा में इस्तेमाल किए जाने वाले कांसे के बर्तन भी मिले हैं. (Photo: AP)

  • 4/7

मंत्रालय का कहना है कि इस खोज में 250 ताबूत, 150 कांसे की मूर्तियां और करीब 500 ईसा पूर्व की अन्य वस्तुएं शामिल हैं. इन सभी चीजों के साथ, एक संगीत वाद्ययंत्र भी मिला है, जिसे सिस्ट्रम (Sistrum) कहा जाता था. (Photo: AP)

  • 5/7

चित्रों से सजे लकड़ी के ताबूत शाफ्ट में दफन थे, जिसमें ममी, ताबीज और लकड़ी के बक्से थे. नेफ्थिस और आइसिस की प्राचीन काल की लकड़ी की मूर्तियां भी मिलीं हैं, जिनपर सोने का पानी चढ़ा हुआ है. (Photo: AP)

  • 6/7

इतना ही नहीं इस खोज में सौंदर्य प्रसाधन भी मिले हैं. इसमें काजल और सुरमे की डब्बियां, कंगन और झुमके शामिल हैं. इन ताबूतों को गीज़ा के महान पिरामिड के पास बन रहे मिस्र के बड़े संग्रहालय (Grand Egyptian Museum) में रखा जाएगा. यह म्यूज़ियम इस साल के अंत तक खुल जाएगा. (Photo: AP)

  • 7/7

गीज़ा पिरामिड के दक्षिण में स्थित सक्कारा में हाल ही के कुछ सालों में कई खोज की गई हैं. मिशन 2018 से इस इलाके में खुदाई कर रहा है.  (Photo: AP)