सूर्य ग्रहण में करें इन 3 महामंत्रों का जाप, टल जाएगा हर संकट

यह सूर्य ग्रहण ऐसे वक्त में पड़े रहा है जब राहु-केतु समेत कुल छह ग्रह वक्री हैं. ज्योतिषियों का कहना है कि अगर ग्रहण काल में आप कुछ खास मंत्रों का उच्चारण करें तो आपके सिर से संकट टल सकता है.

सूर्य ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले यानी 20 जून को रात करीब 9 बजकर 25 मिनट से लगेगा.
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 20 जून 2020,
  • अपडेटेड 1:40 PM IST

21 जून यानी रविवार को साल का पहला सूर्य ग्रहण को लगने वाला है. यह ग्रहण सुबह 9 बजकर 15 मिनट से दोपहर 3 बजकर 4 मिनट तक रहेगा. यह ग्रहण मंगल के नक्षत्र में पड़ने वाला है. ज्योतिर्विदों के अनुसार, भारत समेत कई देशों पर इस सूर्य ग्रहण का नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है. यह सूर्य ग्रहण ऐसे वक्त में पड़ रहा है जब राहु-केतु समेत कुल छह ग्रह वक्री हैं. ज्योतिषियों का कहना है कि अगर ग्रहण काल में आप कुछ खास मंत्रों का जाप करें तो आपके सिर से संकट टल सकता है.

सूर्य ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले यानी 20 जून को रात करीब 9 बजकर 25 मिनट से लगेगा. ग्रहण में सूतक काल काफी अहम माना जाता है. सूतक काल लगने के बाद से ही आप कुछ खास मंत्रों का उच्चारण कर सकते हैं.

पढ़ें: सूर्य ग्रहण: आज किस वक्त लगेगा सूतक? जानें किन 12 कामों पर होगी पाबंदी

सूर्य ग्रहण में लाभ देंगे ये मंत्र

1. “तमोमय महाभीम सोमसूर्यविमर्दन। हेमताराप्रदानेन मम शान्तिप्रदो भव॥१॥”

2.“विधुन्तुद नमस्तुभ्यं सिंहिकानन्दनाच्युत। दानेनानेन नागस्य रक्ष मां वेधजाद्भयात्॥२॥”

3. "ॐ आदित्याय विदमहे दिवाकराय धीमहि तन्न: सूर्य: प्रचोदयात"

Read more!

RECOMMENDED