इस विधि से करें गणेश चतुर्थी की पूजा, पूरी होगी हर मनोकामना

इस साल गणपति का जन्मदिन यानी कि गणेश चतुर्थी 25 अगस्त को मनाया जाएगा, जो कि आज है. जानिये गणेश जी की स्थापना और पूजा किस विध‍ि से करनी चाहिए.

भगवान गणेश
वंदना भारती
  • नई दिल्ली,
  • 23 अगस्त 2017,
  • अपडेटेड 7:15 AM IST

प्रथम पूज्य भगवान गणेश का जन्मदिन इस साल 25 अगस्त को दुनियाभर में मनाया जाएगा. भगवान गणेश सभी तरह की बाधाओं को दूर करने वाले, शुभ ही शुभ करने वाले, बुद्धि, समृद्धि और धन देने वाले माने जाते हैं. गणेश चतुर्थी का उत्सव 10 दिन तक मनाया जाता है. गणेश चतुर्थी से शुरू होकर अनंत चतुर्दशी तक चलता है. लोग भगवान गणेश की मूर्ति घर में, पंडाल में स्थापित कर विधि विधान से पूजन करते हैं और अपने मनोकामना पूर्ति के लिए प्रार्थना करते हैं और फिर पूरे धूम-धाम से विसर्जन करते हैं.

कब करें गणपति की स्थापना

भगवान गणेश का जन्म भाद्रपद मास की शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को दोपहर के समय हुआ था, इसलिए दोपहर के समय गणेश जी की मूर्ति की स्थापना करें.

गणेश चतुर्थी की पूजा विधि

-सबसे पहले मूर्ति लाकर एक चौकी में नया कपड़ा बिछा कर स्थापित करें

-हाथ जोड़कर भगवान गणेश का आवाहन करें

- सिंदूर, रोली, अक्षत से तिलक करें

- दूब और फूलों की माला आर्पित करें

-धूप, दीप दिखाकर पूजन करें

-लड्डू और फल का भोग लगाएं

-पूरे परिवार के साथ आरती करें

 

Read more!

RECOMMENDED