अगर आपका बच्चा भी तुतलाता है तो एकबार जरूर आजमाएं ये उपाय

बहुत से बच्चे ऐसे हैं जो इस आदत को छोड़ नहीं पाते और बड़े होने पर भी तुतलाते ही रहते हैं. ऐसे बच्चों को घर और समाज में कई बार शर्मिंदगी उठानी पड़ती है. स्कूल में दूसरे सहपाठियों के सामने और कॉलेज में दोस्तों के साथ.

अगर तुतलाता हो बच्चा...
भूमिका राय
  • नई दिल्ली,
  • 31 अक्टूबर 2016,
  • अपडेटेड 10:07 AM IST

बच्चे जब एक या दो साल के होते हैं तो उनकी तोतली जुबान बहुत ही प्यारी लगती है. उनकी बातें इतनी मीठी लगती हैं कि दिल करता है सिर्फ सुनते ही रहें. उन्हें सुधारने का ख्याल तक किसी को नहीं आता है. यहां त‍क की मां-बाप और दूसरे रिश्तेदार भी बच्चे से उसी तरीके से बातें करना शुरू कर देते हैं. लेकिन एक समय के बाद ये आदत परेशानी का कारण बन जाती है.

बहुत से बच्चे ऐसे हैं जो इस आदत को छोड़ नहीं पाते और बड़े होने पर भी तुतलाते ही रहते हैं. ऐसे बच्चों को घर और समाज में कई बार शर्मिंदगी उठानी पड़ती है. स्कूल में दूसरे सहपाठियों के सामने और कॉलेज में दोस्तों के साथ.

पर सबसे बड़ा नुकसान करियर में उठाना पड़ता है. जहां कई इंटरव्यू में ये आदत कमी के रूप में देखी जाती है. ऐसे में अगर आपके बच्चे को भी ये परेशानी है तो अभी से उस पर ध्यान दें. सबसे पहले डॉक्टर की सलाह लें, उसके साथ ही इन घरेलू उपायों को आजमाना भी फायदेमंद रहेगा.

- बच्चे को हरा आंवला चबाने के लिए दें. आंवले के सेवन से आवाज साफ होती है.

- बादाम के सात टुकड़े और उतनी ही मात्रा में काली मिर्च को पीसकर एक चटनी जैसा पेस्ट तैयार कर लें. इसमें शहद मिलाकर बच्चे को चाटने के लिए दें.

- काली मिर्च चूसना भी बहुत फायदेमंद रहेगा.

Read more!

RECOMMENDED