स्लम की लड़कियों को मार्शल आर्ट सिखा रही है ये अभि‍नेत्री

लड़कियां अगर अपनी सुरक्षा करने में खुद सक्षम हों तो शायद उनके साथ होने वाली छेड़छाड़ और अन्य घटनाओं को कम करने में मदद मिल सकती है. इस बात की गहराई को समझते हुए टीवी अदाकारा इशिता शर्मा ने एक मुहिम छेड़ दी है.

इशिता शर्मा
वन्‍दना यादव
  • नई दिल्ली,
  • 18 अप्रैल 2016,
  • अपडेटेड 7:19 PM IST

लड़कियों और महिलाओं के साथ बढ़ रही अपराध की घटनाओं को देखते हुए विज्ञापन फिल्मों से अपना करियर शुरू करने वाली अभि‍नेत्री इशिता शर्मा और कुंग फू ट्रेनर अलेक्जेंडर फर्नांडीज ने ‘मुक्का मार’ मुहिम के तहत लड़कियों के लिए सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग शुरू की है.

एड फिल्म्स का जाना-माना चेहरा हैं इशि‍ता ‘दिल दोस्ती एक्स्ट्रा’ जैसी फिल्मों और ‘डांस इंडिया डांस’ टीवी शो को होस्ट कर चुकी इशिता शर्मा एड फिल्‍मों और छोटे पर्दे की जानी-मानी अभि‍नेत्री हैं. हाल ही में परफॉर्मिंग आर्ट्स को बढ़ावा देने के लिए इशि‍ता ने ‘आमद’ नाम से एक इंस्टिट्यूट खोला है, जहां पर डांस, मार्शल आर्ट और योग की ट्रेनिंग देती हैं.

निभर्या पर बनी डॉक्यूमेंट्री देखकर आया विचार इशिता शर्मा ने कुछ महीने पहले निर्भया पर बनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म देखी जिसने उन्हें दहला कर रख दिया और इसके बाद उन्होंने इस मुहिम को शुरू करने का विचार बनाया. इशिता मार्शल आर्ट की छात्रा रह चुकी हैं, इतना ही नहीं एक बार उन्‍हें भी छेड़खनी का शिकार होना पड़ा था, जिसके बाद उन्होंने लड़के को अच्छा सबक भी सिखाया था. उनका मानना है कि अभि‍भावकों को जागरूक करना बहुत जरूरी है. इस मुहिम को आगे बढ़ाने के लिए उन्होंने मुंबई में ‘लाइफ इंस्टीट्यूट ऑफ ताईचे, मार्शल आर्ट एंड हिलिंग रिसर्च सेंटर’ चलाने वाले अलेक्जेंडर फर्नांडीज को अपने मिशन का हिस्सा बनाया.

फेसबुक ने राह की आसान ‘मुक्का मार’ मुहिम शुरू के लिए इशिता ने फेसबुक को प्लेटफॉर्म बनाया और मुहिम से जुड़े पोस्ट करने लगीं. उनके इस आइडिया को लोगों ने भी काफी सराहा. इशिता ने वर्सोवा के स्लम इलाके में जाकर भी लोगों से मुलाकात की और उनको समझाया कि लड़कियों को अपनी सुरक्षा के लिए मार्शल आर्ट सीखना कितना जरूरी है. स्लम के लोगों को समझाने के लिए इशिता ने दिन-रात एक कर दिए. इस कड़ी मेहनत का उन्‍हें नतीजा मिला और स्लम के लोग अपने बच्चों को भेजने के लिए राजी भी हो गए.

फ्री मिल रही है बच्चों को ट्रेनिंग यहां पर आने वाली बच्चियों को मार्शल आर्ट और कूंग-फू की मुफ्त में ट्रेनिंग दी जाती है. इशिता इस मुहिम को अपनी संस्था ‘आमद’ के जरिए चलाती हैं. इसके लिए उन्होंने अलेक्जेंडर फर्नांडीज समेत चार इंस्ट्रक्टर रखे हुए हैं. इश्तिा का सपना है कि आगे चलकर ये लड़कियों अपनी ही जैसी और लड़कियों को ट्रेनिंग दें.

Read more!

RECOMMENDED