पूरी नींद नहीं लेने से बॉडी में होने लगते हैं ये बदलाव

कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो चाहकर भी ठीक तरह से सो नहीं पाते. बस रातभर बिस्तर पर करवटें बदलते ही रह जाते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि नींद पूरी ना होने से आपके शरीर में क्या बदलाव होते हैं?

लंबे समय तक ना सोने से सेहत पर पड़ता है बुरा असर
प्रज्ञा बाजपेयी
  • नई दिल्ली,
  • 09 दिसंबर 2017,
  • अपडेटेड 3:45 PM IST

कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो चाहकर भी ठीक तरह से सो नहीं पाते. बस रातभर बिस्तर पर करवटें बदलते ही रह जाते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि नींद पूरी ना होने से आपके शरीर में क्या बदलाव होते हैं? कई स्टडी में यह बात सामने आ चुकी है कि जब किसी व्यक्ति की नींद ठीक तरह से पूरी नहीं होती है तो उसका दिमाग सुस्त हो जाता है. इसका सेहत पर बहुत बुरा असर पड़ता है. आइए जानें लंबे समय तक ना सोने से क्या होता है...

24 घंटे तक उठे रहना

स्टडी के मुताबिक, 24 घंटे तक ना सोने से व्यक्ति के काम करने की क्षमता पर बुरा असर पड़ता है. किसी चीज पर आपका ध्यान नहीं लगता है. आपका स्वभाव चिड़चिड़ा होने लगता है. इससे चीजों को याद रखने की क्षमता भी कम हो जाती है.

36 घंटे तक उठे रहना

एक स्टडी के मुताबिक, 36 घंटे तक उठे रहने से दिमाग के साथ दिल पर भी काफी बुरा असर पड़ता है. 36 घंटे तक ना सोने दिल की धड़कन कंट्रोल से बाहर हो जाती है. साथ ही इससे ब्लड प्रेशर में भी उतार चढ़ाव होता रहता है. इससे सेहत को काफी नुकसान पहुंचता है. आप कोई भी काम ठीक से नहीं कर पाते हैं.

48 घंटे तक उठे रहना

48 घंटे तक ना सोना आपके लिए काफी खतरनारक साबित हो सकता है. सटडी के अनुसार, 48 घंटे तक ना सोने से हमारे शरीर में मौजूद व्हाईट ब्लड सेल्स का लेवल बहुत कम हो जाता है. शरीर की इंफेक्शन के कारण होने वाली बीमारियों से लड़ने की क्षमता खत्म हो जाती है. जिस वजह से हम कई बड़ी बीमारियों की चपेट में आ सकते हैं.

72 घंटे तक उठे रहना

72 घंटे तक ना सोना आपको मानसिक रूप से बीमार कर सकता है. इस स्थिति में उठे रहकर भी आपका दिमाग सोया रहता है. आपको कुछ याद ही नहीं रहता है. आपका मूड थोड़ी-थोड़ी देर में बदलता रहता है. आप कई खतरनाक बीमारियों के शिकार भी हो सकते हैं.

Read more!

RECOMMENDED