जानें, जमीन पर बैठकर खाना खाने से सेहत को होते हैं कितने फायदे!

जमीन पर बैठकर खाने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है जो दिल की सेहत के लिए जरूरी है.

Representational photo
वंदना भारती
  • नई दिल्ली,
  • 21 नवंबर 2017,
  • अपडेटेड 1:46 PM IST

मॉर्डन लाइफस्टाइल के चलते आज कल कुर्सी टेबल पर बैठकर खाना खाने का ट्रेंड सा बन गया है. लेकिन पहले के समय में लोग जमीन पर बैठकर ही खाना खाते थे. आजकल के लोग जमीन पर बैठकर खाने को आउटडेटेड समझते हैं. इतना ही नहीं, लोगों को जमीन पर बैठकर खाना खाने में शर्मिंदगी महसूस होती है.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि जमीन पर बैठकर खाना खाने से सेहत को कई तरह के फायदे पहुंचते हैं. क्योंकि जमीन पर हम जिस तरह से एक पैर को दूसरे पर रखकर बैठते हैं, वो एक आसन की मुद्रा होती है. इस मुद्रा में बैठकर खाना खाने से भोजन का पूरा फायदा मिलता है और पाचन क्रिया भी बेहतर रहती है.

आइए जानते हैं जमीन पर बैठकर खाना खाने के फायदे:

1. जमीन पर बैठकर खाना खाने से शरीर मजबूत होता है. इस मुद्रा में बैठने से पीठ के निचले हिस्से की मांसपेशियों, पेल्विस और पेट के आस-पास की मांसपेशियों में खिंचाव होता है. जिससे असहजता और दर्द की शिकायत में आराम मिलता है.

2. जमीन पर बैठकर खाने के दौरान आप पाचन की नेचुरल अवस्था में होते हैं. इससे पाचक रस बेहतर तरीके से अपना काम कर पाते हैं.

3. परिवार के सभी सदस्य जब एक साथ जमीन पर बैठकर खाते हैं, तो उनके बीच का संबंध भी मजबूत बनता है. इस मुद्रा में बैठने से शरीर की कई तकलीफें दूर हो जाती हैं. आराम मिलने से खाने का स्वाद भी दोगुना हो जाता है.

4. जमीन पर बैठकर खाना खाने से वजन संतुलित रखने में भी मदद मिलती है.

5. जमीन पर बैठकर खाना खाते समय आप सिर्फ खाना ही नहीं खाते हैं बल्कि यह एक आसन की मुद्रा भी है. ये मुद्रा आपको शांत रहने में मदद करती है. इससे रीढ़ की हड्डी को भी आराम मिलता है.

6. जमीन पर बैठकर खाने से हमारा बॉडी-पोश्चर भी बेहतर होता है. इससे व्यक्त‍ित्व में भी निखार आता है.

7. जमीन पर बैठकर खाने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है जो दिल को सेहतमंद रखने के लिए जरूरी है.

Read more!

RECOMMENDED