शराब पीने के केवल नुकसान ही नहीं, होते हैं ये फायदे

एक नई स्टडी में यह बात कही गई है कि बीयर और रेड वाइन पीने से व्यक्ति को काफी रिलेक्स महसूस होता है. हालांकि अलग-अलग तरह की अल्कोहल पीने से लोगों में अलग तरह की भावनाएं पैदा होती हैं.

Representational image
वंदना भारती
  • नई दिल्ली,
  • 22 नवंबर 2017,
  • अपडेटेड 3:45 PM IST

शराब पीने वालों को समाज में ज्यादातर बुरी नजर से देखा जाता है. क्योंकि शराब को अच्छी सेहत का दुश्मन समझा जाता है और यह बात कई स्टडी में भी सामने आ चुकी है. लेकिन आपको यह जानकर शायद हैरानी होगी कि शराब पीने से सेहत को सिर्फ नुकसान ही नहीं होते हैं बल्कि इसके कुछ फायदे भी हैं.

जी हां, एक नई स्टडी में यह बात कही गई है कि बीयर और रेड वाइन पीने से व्यक्ति को काफी रिलेक्स महसूस होता है. हालांकि अलग-अलग तरह की अल्कोहल पीने से लोगों में अलग तरह की भावनाएं पैदा होती हैं.

यह स्टडी ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित की गई है. इस स्टडी में 'ग्लोबल ड्रग सर्वे' के डेटा को इस्तेमाल किया गया है. स्टडी के मुताबिक, वोडका और व्हिस्की पीने से व्यक्ति में सबसे स्ट्रॉग भावनाएं पैदा होती हैं. इसके पीने से लगभग 30 फीसदी लोगों में आक्रामकता और 28 फीसदी लोगों में बेचैनी होती है. वहीं इसके पीने से 22 फीसदी लोग इमोश्नल हो जाते हैं. लेकिन चौंकाने वाली बात यह है कि वोडका और व्हिस्की पीने से लगभग 59 फीसदी लोग खुद में ज्यादा कॉन्फिडेंट महसूस करते हैं, 58 फीसदी लोग ताकतवर महसूस करते हैं, जबकि 42 फीसदी लोग ज्यादा सेक्सी महसूस करते हैं.

स्टडी की रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि करीबन 53 फीसदी लोगों ने माना है कि वाइन पीने के बाद वो ज्यादा शांत महसूस करते हैं, 50 फीसदी लोगों को कहना था कि बीयर पीने के बाद वो रिलेक्स महसूस करते हैं. जबकि रेड वाइन से 60 फीसदी लोगों को थकान महसूस हुई.

शोधकर्ताओं के अनुसार, हर ड्रिंक में अलग-अलग तरह की सामाग्री का इस्तेमाल किया जाता है. साथ ही हर व्यक्ति के ड्रिंक करने की क्षमता अलग होती है. जिस कारण हर व्यक्ति में ड्रिंक करने के बाद अलग-अलग तरह की भावनाएं उत्पन्न होती हैं. उन्होंने यह भी बताया है कि महिलाएं ड्रिंक करने के बाद ज्यादातर इमोशनल हो जाती हैं.

Read more!

RECOMMENDED