खुलासा: तो इस तरह लीची खाकर मुजफ्फरपुर में मरे सैकड़ों बच्चे!

अगर आपको लीची खाना पसंद है तो जरा सावधान हो जाएं, क्योंकि लीची खाने की वजह से आपकी जान भी जा सकती है. हालिया अध्ययन में लीची को लेकर कुछ ऐसे ही चौंकाने वाले खुलासे किए गए हैं.

lichi can cause death muzaffarpur
वंदना भारती
  • नई दिल्ली,
  • 26 अप्रैल 2017,
  • अपडेटेड 12:58 PM IST

अगर आपको लीची खाना पसंद है तो जरा सावधान हो जाएं, क्योंकि लीची खाने की वजह से आपकी जान भी जा सकती है. हालिया अध्ययन में लीची को लेकर कुछ ऐसे ही चौंकाने वाले खुलासे किए गए हैं.

दरअसल अध्ययन की रिपोर्ट में यह कहा गया है कि खाली पेट लीची खाना जानलेवा साबित हो सकता है. लीची में हाइपोग्ल‍िसीन ए और मिथाइलेन्साइक्लोप्रोपाइल्ग‍िसीन नाम का जहरीला तत्व होता है, जो खाली पेट में जाते ही जहर की तरह काम शुरू कर देता है.

विश्व कैंसर दिवस: तंबाकू है कैंसर की खास वजह

यह खुलासा त‍ब हुआ जब बिहार के मुजफ्फरपुर में पिछले दो दशक से बच्चों की हो रही संदिग्ध हालत में मौत का अध्ययन किया गया. मौत का ये आंकड़ा मई और जून के महीने में काफी बढ़ जाता था. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार 2014 में 390 बच्चे इस बीमारी की चपेट में आए थे, जिन्हें बाद में अस्पताल में भर्ती कराया गया जिनमें से 122 बच्चों की मौत हो गई.

इसके बाद भारत और अमेरिका के वैज्ञानिकों ने इस पर अध्ययन किया. 3 साल के अध्ययन से पता चला कि बच्चों की मौत की वजह खाली पेट लीची खाना था.

इस फल को खाने से खत्‍म हो जाएगा कैंसर...

अस्पताल में भर्ती हुए बच्चों के खून और पेशाब की जांच से पता चला कि उनके शरीर में हाइपोग्लिसीन ए और मिथाइलेन्साइक्लोप्रोपाइल्गिसीन तत्व मौजूद थी.

बीमार बच्चों में से ज्यादातर ने शाम या रात का खाना नहीं खाया था और सुबह ज्यादा मात्रा में लीची खाई थी. इस हालत में इन तत्वों का असर ज्यादा हानिकारक होता है. इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद भारत सरकार ने भी निर्देश जारी किए हैं. वहीं डॉक्टरों ने बच्चों को सुबह संतुलित भोजन करने के बाद सीमित मात्रा में ही लीची का सेवन करने की सलाह दे रहे हैं.

Read more!

RECOMMENDED