कमलेश तिवारी हत्याकांड: मुख्य आरोपियों पर UP पुलिस ने रखा 2.5 लाख का इनाम

कमलेश तिवारी हत्याकांड में गुजरात से गिरफ्तार आरोपियों को उत्तर प्रदेश पुलिस लखनऊ लेकर आ गई है. सोमवार सुबह की फ्लाइट से आरोपियों को लखनऊ लाया गया.

(कमलेश तिवारी-फाइल फोटो)
aajtak.in
  • ,
  • 21 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 11:36 AM IST

  • गुजरात से लखनऊ लाए गए कमलेश तिवारी हत्याकांड के आरोपी
  • मीडिया से बचने के लिए 2 बार पुलिस ने बदला फ्लाइट का समय
  • दोपहर के बाद पुलिस आरोपियों को कोर्ट में करेगी पेश

कमलेश तिवारी हत्याकांड में गुजरात से गिरफ्तार आरोपियों को उत्तर प्रदेश पुलिस लखनऊ लेकर आ गई है. सोमवार सुबह की फ्लाइट से आरोपियों को लखनऊ लाया गया. इस दौरान मीडिया से बचने के लिए पुलिस ने दो बार फ्लाइट का समय बदला.

अब माना जा रहा है कि दोपहर बाद पुलिस आरोपियों को कोर्ट में पेश करेगी. इसके साथ ही पुलिस ने दो मुख्य आरोपियों अशफाक और मेईनुद्दीन के खिलाफ इनाम घोषित किया. दोनों पर ढाई लाख का इनाम घोषित किया गया है.

3 आरोपियों को 72 घंटे की ट्रांजिट रिमांड

लखनऊ में हिंदू समाज के नेता कमलेश तिवारी की हत्या के आरोपियों से लखनऊ में पूछताछ करेगी. अहमदाबाद की कोर्ट ने तीनों आरोपियों की ट्रांजिट रिमांड को मंजूरी दे दी थी. कोर्ट ने 24 घंटे की ट्रांजिट रिमांड मंजूर कर ली है.

यह भी पढ़ें: कमलेश तिवारी हत्याकांड: CM योगी ने स्वीकार कीं परिजनों की ये 2 मांगें

CCTV में दिखे हत्याकांड के संदिग्ध

कमलेश तिवारी हत्याकांड के संदिग्ध हत्यारे शाहजहांपुर में दिखाई दिए हैं. इसके बाद एसटीएफ ने होटलों और मदरसों के मुसाफिरखानो में ताबड़तोड़ छापेमारी की. पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में संदिग्ध दिखाई दिए हैं. फिलहाल एसटीएफ की टीम शाहजहांपुर में डेरा जमाए हुए है.

यह भी पढ़ें: फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर आरोपी ने कमलेश तिवारी से की थी दोस्ती

मिली जानकारी के मुताबिक कमलेश तिवारी हत्या के संदिग्ध हत्यारे लखीमपुर जिले के पलिया से इनोवा गाड़ी बुक करा कर शाहजहांपुर पहुंचे थे. संदिग्धों की शाहजहांपुर में लोकेशन मिलने पर एसटीएफ ने तड़के 4 बजे कई होटलों, मदरसों और मुसाफिरखाना में ताबड़तोड़ छापेमारी की.

आरोपी सूरत से गिरफ्तार

हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी हत्याकांड में उत्तर प्रदेश पुलिस ने शनिवार को तीन लोगों को गुजरात के सूरत से गिरफ्तार किया था. यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया था कि कमलेश तिवारी हत्याकांड में सभी आरोपियों की पहचान हो गई है और 24 घंटे में हत्याकांड का पर्दाफाश हो गया है.

यह भी पढ़ें: फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर आरोपी ने कमलेश तिवारी से की थी दोस्ती

Read more!

RECOMMENDED