बंगाल में कानून मंत्री के सामने TMC कार्यकर्ताओं के जय श्रीराम के नारे

पुरुलिया नगर पालिक के दो टीएमसी पार्षदों ने जय श्रीराम के नारे लगाए हैं. पुरुलिया के पार्टी पर्यवेक्षक और राज्य के कानून मंत्री मोली घटक की मौजूदगी में टीएमसी के दो कार्यकर्ताओं ने जय श्रीराम के नारे लगाकर पार्टी के खिलाफ विरोध दर्ज किया.

ममता बनर्जी (फाइल फोटो)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 10 जून 2019,
  • अपडेटेड 10:59 AM IST

पश्चिम बंगाल के चंद्रकोण में बीजेपी कार्यकर्ताओं द्वारा जय श्रीराम के नारे लगाने पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी नाराज हो गई थीं और अपने काफिले को रुकवाकर वह नारा लगाते लोगों पर बरस पड़ी थीं. अब जय श्रीराम के नारे पर ममता की पार्टी ही दो फाड़ हो गई है.

पुरुलिया नगर पालिक के दो टीएमसी पार्षदों ने जय श्रीराम के नारे लगाए हैं. पुरुलिया के पार्टी पर्यवेक्षक और राज्य के कानून मंत्री मोली घटक की मौजूदगी में टीएमसी के दो कार्यकर्ताओं ने जय श्रीराम के नारे लगाकर पार्टी के खिलाफ विरोध दर्ज किया. लोकसभा चुनाव के बाद पार्टी के लिए पुरुलिया सीट का विश्लेषण करने पश्चिम बंगाल के कानून मंत्री यहां पहुंचे थे.

यहां मोली घटक ने स्थानीय कार्यकर्ता और नेताओं के साथ मीटिंग की थी. मीटिंग हॉल से बाहर आने के बाद दो पार्षदों ने जय श्रीराम के नारे लगाए. जानकारी के मुताबिक, वार्ड नंबर 5 से पार्षद बिभास रंजन दास और वार्ड नंबर 23 से प्रदीप दागा ने कानून मंत्री के सामने ही जय श्रीराम के नारे लगाने शुरू कर दिए.

पार्षदों को विरोध के रूप में जय श्रीराम के नारे लगाता देख मंत्री मोली घटक और अन्य मंत्री और टीएमसी के जिलाध्यक्ष शांति राम महतो असहज हो गए. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जय श्रीराम के नारे सुनकर कई कार्यक्रमों में नाराज हो गई थीं. यहां तक कि उन्होंने काफिले के दौरान नारेबाजी कर रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार करने का आदेश दे दिया था. बीजेपी का राज्य में लगातार प्रभाव बढ़ रहा है. इसी का नतीजा है कि पार्टी ने पश्चिम बंगाल में 18 सीटों पर जीत दर्ज की है.

मोली घटक से जब पार्षदों द्वारा नारेबाजी के बारे में पूछा गया तो वह इसका जवाब देने से बचने लगे. उन्होंने अपने बचाव में कहा कि मैंने कुछ नहीं सुना है और मैं ऐसे किसी भी चीज पर कमेंट नहीं कर सकता जिसे मैंने नहीं सुना.

क्या है मामला?

दरअसल, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा था, जिसमें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 'जय श्री राम' बोल रहे लोगों पर भड़कती नजर आईं. ममता बनर्जी का काफिला जब चंद्रकोण में आरामबाग सीट पर चुनाव प्रचार के लिए जा रहा था, तभी सड़क किनारे मौजूद भीड़ ने 'जय श्रीराम' के नारे लगाए. इसके बाद ममता बनर्जी ने ड्राइवर को गाड़ी रोकने के लिए कहा. हालांकि, जैसे ही ममता बनर्जी गाड़ी से उतरीं तो नारे लगाने वाले भाग गए. वह कहती सुनी जा रही हैं तुम भाग क्यों रहे हो. ममता ने पुलिस को नारे लगाने वालों को गिरफ्तार करने का आदेश दिया था.

 

Read more!

RECOMMENDED