370 पर PM मोदी ने ट्रंप के सामने देश के सांसदों को दिलवाया स्टैंडिंग ओवेशन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में लोगों को संबोधित किया. उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का इस समारोह में हिस्सा लेने के लिए शुक्रिया अदा किया.

ह्यूस्टन में पीएम नरेंद्र मोदी (फोटो-IANS)
aajtak.in
  • ह्यूस्टन(टेक्सास),
  • 23 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 8:42 AM IST

  • मोदी ने ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में लोगों को संबोधित किया
  • पीएम ने कहा कि भारत में सैकड़ों बोलियां, अलग-अलग भाषाएं हैं
  • कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने पर लोगों को खड़ा कराया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में लोगों को संबोधित किया. उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का इस समारोह में हिस्सा लेने के लिए शुक्रिया अदा किया.

पीएम मोदी ने कहा कि इस कार्यक्रम का नाम 'हाउडी मोदी' है लेकिन मोदी अकेले कुछ नहीं है. मैं 130 करोड़ भारतीय के आदेश पर काम करने वाला एक साधारण व्यक्ति हूं. इसलिए जब आपने पूछा है कि 'हाउडी मोदी', तो मेरा मन कहता है कि इसका जवाब यही है, भारत में सब अच्छा है.

इसी दौरान पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले 370 को निरस्त किए जाने के फैसले के बारे में बताया. पीएम मोदी ने कहा कि देश के सामने 70 साल से एक और बड़ा चैलेंज था जिसे कुछ दिन पहले भारत ने अलविदा कह दिया.

प्रधानमंत्री ने कहा कि आर्टिकल 370 ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विकास से और समान अधिकारों से वंचित रखा था. इस स्थिति का लाभ आतंकवाद और अलगाववाद बढ़ाने वाली ताकतें उठा रहीं थीं. अब भारत के संविधान ने जो अधिकार बाकी भारतीयों को दिए हैं, वहीं अधिकार जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को मिल गए हैं.

पीएम मोदी ने इस अनुच्छेद पर कहा कि राज्यसभा में हमारी पार्टी के पास बहुमत नहीं है, लेकिन इसके बावजूद अनुच्छेद 370 को निरस्त करने वाला बिल पारित हो गया और यह सांसदों की वजह से मुमकिन हो सका. इसलिए आपसे अनुरोध है कि सांसदों के सम्मान में खड़े जो जाएं. और फिर पूरी भीड़ सांसदों के सम्मान में खड़ी हो गई.

इससे पहले, प्रधानमंत्री ने विभिन्न भाषाओं में 'भारत में सब अच्छा है' कहा. उन्होंने कहा कि भारत में सैकड़ों बोलियां, अलग-अलग भाषाएं हैं. विविधता में एकता हमारी पहचान है. यही हमारी शक्ति है. यही हमारी प्रेरणा है. हम जहां भी जाते हैं, विविधता और लोकतंत्र को साथ-साथ लेकर चले जाते हैं. आज 50,000 से ज्यादा भारतीय यहां हमारी महान परंपरा के प्रतिनिधि बनकर उपस्थित हैं.

उन्होंने कहा, "आप लोगों में कई ऐसे हैं, जिन्होंने 2019 के चुनाव में अपना सक्रिय योगदान दिया है. इस चुनाव में भारतीय लोकतंत्र का परचम पूरी दुनिया में लहरा दिया. इस चुनाव में अमेरिका के कुल आबादी का लगभग दोगुने लोगों ने मतदान किया. इस बार सबसे ज्यादा संख्या में महिलाएं चुन कर आई हैं."

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज भारत का सबसे बड़ा संकल्प है 'न्यू इंडिया' है. आज भारत पहले के मुकाबले और तेज गति से आगे बढ़ना चाहता है. आज भारत कुछ लोगों की उस सोच को चुनौती दे रहा है कि जिसके तहत लोग सोचते थे कि 'कुछ बदल नहीं सकता है.' आज भारत ने उन चुनौतियों को हासिल किया है जिसकी पहले कोई कल्पना भी नहीं कर सकता था.

Read more!

RECOMMENDED