PMC बैंक के खाताधारकों का हंगामा, निर्मला बोलीं- जरूरत पड़ने पर एक्ट में करेंगे बदलाव

पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक का बवाल थमता नहीं नजर आ रहा है. बैंक पर लगाई गई पाबंदियों से नाराज खाताधारकों ने आज भारतीय जनता पार्टी के मुंबई दफ्तर के बाहर विरोध प्रदर्शन किया.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (फाइल फोटो)
कमलेश सुतार
  • मुंबई,
  • 10 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 3:01 PM IST

  • PMC बैंक खाताधारकों ने किया विरोध प्रदर्शन
  • RBI नजर बनाए हुए है: निर्मला सीतारमण

पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (PMC) बैंक का बवाल थमता नहीं नजर आ रहा है. बैंक पर लगाई गई पाबंदियों से नाराज खाताधारकों ने आज भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के मुंबई दफ्तर के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. खाताधारकों को विरोध प्रदर्शन उस वक्त हुआ, जब बीजेपी दफ्तर में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रही थीं.

विरोध प्रदर्शन के बीच खाताधारकों ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात की. निर्मला ने खाताधारकों को यथा संभव मदद का आश्वासन दिया. इसके बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए निर्मला ने कहा कि इस मामले का वित्त मंत्रालय से कोई लेना-देना नहीं है. इस पूरे मामले पर आरबीआई नजर रखे हुए है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि हम ऐसी घटनाओं को रोकने की दिशा में काम कर रहे हैं. जरूरत पड़ी तो हम एक्ट में बदलाव करेंगे, लेकिन अभी इस बदलाव के बारे में ज्यादा कुछ कह नहीं सकते हैं. वहीं पीएमसी बैंक खाताधारकों ने वित्त मंत्री से मुलाकात के बाद कहा कि वो वित्त मंत्री की बातों से संतुष्ट नहीं हैं. खाताधारकों ने कहा कि वित्त मंत्री ने कोई ठोस आश्वासन नहीं दिया.

क्या है मामला?

बता दें कि सितंबर के महीने में आरबीआई ने बैंक को झटका देते हुए छह महीने का प्रतिबंध लगा दिया. इसके चलते पीएमसी बैंक के नियमित कारोबार पर रोक लगा दी गई. इस फैसले के बाद जमाकर्ताओं में भारी दहशत फैल गई और त्योहारों के सीजन से पहले इसने बैंकिंग और कॉरपोरेट सर्किल को चौंका दिया. बैंक में कई हजार करोड़ रुपये के घपले की आशंका जताई जा  रही है.

इसके साथ ही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी मामले में मनी लॉन्ड्रिंग को लेकर अलग से जांच शुरू की और एचडीआईएल के शीर्ष अधिकारियों की विभिन्न चल संपत्तियों को जब्त करने के अलावा मुंबई में कई जगहों पर छापेमारी की.

Read more!

RECOMMENDED