कॉरपोरेट टैक्स में छूट को RBI गवर्नर ने बताया-बोल्ड, किया वेलकम

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कॉरपोरेट टैक्स में छूट का ऐलान किया है. इस ऐलान पर रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि इससे कॉरपोरेट को फायदा होगा. इन छूट से कंपनीज को फायदा होगा. इससे विदेशी इंवेस्टमेंट आएगा. यह एक कड़ा निर्णय है. इससे लोगों को फायदा होगा.

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास (फोटो- इंडिया टुडे)
aajtak.in
  • मुंबई,
  • 20 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 12:46 PM IST

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कॉरपोरेट टैक्स में छूट का ऐलान किया है. इस ऐलान पर रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि इससे कॉरपोरेट को फायदा होगा. इन छूट से कंपनीज को फायदा होगा. इससे विदेशी इंवेस्टमेंट आएगा. यह एक कड़ा निर्णय है. इससे लोगों को फायदा होगा.

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि कॉर्पोरेट को लाभ मिलेगा, लेकिन कोई समस्या आएगी तो उसे सरकार सुधारेगी. ग्रोथ के लिए कई सेक्टर जुड़े हुए हैं. बैंकिंग, इंडस्ट्री को फायदा देने से सभी को फायदा होता है. इससे निवेश बढ़ता है. निवेश बढ़ने से कंपनी के साथ-साथ देश को भी फायदा होता है.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज कंपनी और कारोबारियों को राहत देते हुए कॉरपोरेट टैक्‍स घटाने का ऐलान किया. इसका अध्‍यादेश पास हो चुका है. इस ऐलान के बाद सेंसेक्स में करीब 1500 प्वाइंट की उछाल आई है. सेंसेक्स 37 हजार को पार कर गया है. निफ्टी में 400 अंको की उछाल आई है.

इसके साथ ही निर्मला सीतारमण ने कहा कि मैन्‍युफैक्‍चरिंग कंपनियों के लिए भी टैक्‍स घटेगा. घरेलू कंपनियों पर बिना किसी छूट के इनकम टैक्स 22 फीसदी होगा, जबकि सरचार्ज और सेस जोड़कर प्रभावी दर 25.17 फीसदी हो जाएगी. सरकार को इस ऐलान के बाद 1.45 लाख करोड़ का राजस्‍व घाटा होगा.

सरकार ने इक्‍विटी कैपिटल गेंस पर से सरचार्ज हटा लिया है. निर्मला सीतारमण ने कहा कि लिस्‍टेड कंपनियों को अब बायबैक पर टैक्स नहीं देना होगा, जिन्होंने 5 जुलाई 2019 से पहले बायबैक शेयर का ऐलान किया है. इसके साथ ही MAT यानी मिनिमम अल्टरनेटिव टैक्स खत्म कर दिया गया है.

Read more!

RECOMMENDED