ममता बनर्जी की TMC नेताओं के साथ बैठक आज, प्रशांत किशोर भी रहेंगे मौजूद

प्रशांत किशोर को कई मौकों पर ममता बनर्जी और उनके भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी के साथ कई देखा गया है. लेकिन सीधे तौर पर दोनों पक्ष कुछ कहने से बचते आए हैं.

(फाइल फोटो- ममता बनर्जी, सोर्स- IANS)
मनोज्ञा लोइवाल
  • कोलकाता,
  • 29 जुलाई 2019,
  • अपडेटेड 7:53 AM IST

  • टीएमसी की पश्चिम बंगाल में जमीन मजबूत करेंगे प्रशांत किशोर
  • पार्टी नेताओं के साथ ममता की बैठक में रहेंगे मौजूद
  • तैयार की जाएगी विधानसभा चुनावों की जमीन

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस(टीएमसी) की अध्यक्ष ममता बनर्जी सोमवार को पार्टी नेताओं से मुलाकात करेंगी. खास बात  यह है कि इस बैठक में चुनावी रणनीतिकार और जनता दल(यूनाइटेड) के नेता प्रशांत किशोर भी मौजूद रहेंगे. ममता बनर्जी की पार्टी नेताओं राज्य स्तरीय बैठक बुला रही हैं.

ममता बनर्जी और पार्टी नेताओं के साथ प्रशांत किशोर की यह पहली मुलाकात होगी. अनुमान है कि इस बैठक में करीब 1,000 नेता मौजूद रहेंगे. इस बैठक में हर स्तर के नेता शामिल होंगे. ममता बनर्जी ने यह बैठक कोलकाता के नजरुल मंच में बुलाई है.

माना जा रहा है कि पश्चिम बंगाल में आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर प्रशांत किशोर, टीएमसी के लिए राजनीतिक जमीन तैयार करेंगे. ऐसे में ममता बनर्जी और पार्टी नेताओं के साथ हुई प्रशांत किशोर की इस मुलाकात को चुनावी रणनीति की शुरुआत मानी जा सकती है.

इससे पहले प्रशांत किशोर को कई मौकों पर ममता बनर्जी और उनके भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी के साथ कई देखा गया है. लेकिन सीधे तौर पर दोनों पक्ष कुछ कहने से बचते आए हैं.

प्रशांत किशोर इन दोनों नेताओं के साथ बैठक कर चुके हैं. हालांकि टीएमसी के शीर्ष नेतृत्व के साथ हुई सभी बैठकों के अब तक गोपनीय रखा गया है. लेकिन अब ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की राजनीति में एक बार फिर टीएमसी के स्थापित करने की कोशिश में हैं, इसलिए प्रशांत किशोर अब पश्चिम बंगाल की राजनीति में सक्रिय हो गए हैं.

टीएमसी के नेता जहां अपनी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात करेंगे वहीं यह बैठक काफी हद तक टीएमसी की नई रणनीति का खुलासा भी करेगी. इस बैठक के बाद मीडिया सेशन भी होगा.

प्रशांत किशोर राजनीति के चाणक्य कहे जाते हैं. 2014 में उन्होंने बीजेपी के लिए काम किया तो 2015 में बिहार में जेडीयू और महागठबंधन के लिए. उसके बाद वो कांग्रेस के लिए पंजाब और यूपी में काम कर चुके हैं. हाल में आंध्र प्रदेश में जगन रेड्डी के लिए उन्होंने काम किया था, जिसमें उन्हें बड़ी सफलता मिली थी.

Read more!

RECOMMENDED