इमरान खान बोले- सता रहा था भारत के मिसाइल अटैक का डर, रात भर थे अलर्ट

इमरान खान ने पाक संसद को संबोधित करते हुए कहा कि, 'हमें डर था कि पाकिस्तान की कार्रवाई के बाद भारत कहीं मिसाइल हमला ना कर दे इसलिए पूरा देश अलर्ट पर रखा गया था. हवाई सेवाएं रोक दी थी और सेना को किसी भी कार्रवाई के लिए तैयार रहने कहा था.'

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान.
आदित्य बिड़वई
  • नई दिल्ली,
  • 28 फरवरी 2019,
  • अपडेटेड 6:51 PM IST

भारत और पाकिस्तान के बीच चल रहे तनाव का असर पाकिस्तान पर साफ़ दिखाई दे रहा है. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाक संसद को संबोधित करते हुए कहा कि, 'हमें डर था कि पाकिस्तान की कार्रवाई के बाद भारत कहीं मिसाइल हमला ना कर दे इसलिए पूरा देश अलर्ट पर रखा गया था. हवाई सेवाएं रोक दी थी और सेना को किसी भी कार्रवाई के लिए तैयार रहने कहा था.'

इमरान खान ने कहा कि भारतीय एक्शन से हम खुश नहीं थे. जैसे वो हमारे सीमा में घुसे उसी तरह हम भी भारतीय सीमा में अंदर आए. उनके दो विमान भी हमने मार गिराए. लेकिन हम शांति चाहते हैं. हम केवल यह दिखाना चाहते थे कि हम भी हमला कर सकते हैं. भारत ने आज पाकिस्तान को जैश-ए-मोहम्मद पर डोजियर सौंपा है. यदि भारत हमले के पहले डोजियर देता तो हम कार्रवाई करते, लेकिन उन्होंने डोजियर देने से पहले ही हम पर हमला कर दिया.

उन्होंने आगे कहा कि हम कोई लड़ाई नहीं चाहते हैं और इसके लिए मैंने कल भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बात करने की कोशिश की है. लेकिन हम जो ये कोशिश कर रहे हैं, उसे कमजोरी न समझा जाए.

ये भी पढ़ें: दुश्मन के गढ़ में भी अभिनंदन थे निडर, नारे लगाते हुए की फायरिंग

सेना, एनएसए और प्रधानमंत्री की मीटिंग ने बढ़ाई पाकिस्तान की चिंता....

पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी ठिकानों पर भारतीय वायु सेना द्वारा की गई बमबारी के जवाब में बुधवार सुबह पाकिस्तानी विमान भी भारतीय सीमा में घुस आए थे और नौशेरा सेक्टर में बमबारी की. इसके जवाब में भारतीय विमानों ने पाकिस्तान के विमानों को खदेड़ दिया और उनका एक F 16 लड़ाकू विमान भी मार गिराया. लेकिन दुर्भाग्यवश भारत का एक मिग विमान पाकिस्तानी सीमा में क्रैश हो गया और पायलट अभिनंदन वर्तमान को गिरफ्तार कर लिया गया.

इस घटना के बाद भारत ने कोई जवाबी कार्रवाई नहीं की. लेकिन प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री, तीनों सेनाओं के प्रमुख और एनएसए की लम्बी बैठक चली जो पाकिस्तान के लिए चिंता बन गई. पूरा पाकिस्तान अलर्ट पर था. यहां तक कि इमरान खान ने यह भी कहा कि उन्हें डर था कि भारत मिसाइल हमला ना कर दे. 

Read more!

RECOMMENDED