कोरोना से जंग में सेनाओं को मैंडेट के बाहर जाकर करना होगा ऑपरेट: CDS

CDS जनरल रावत ने इंडिया टुडे से खास बातचीत में कहा कि समय के इस मोड़ पर सेनाओं को मैंडेट के बाहर जाकर ऑपरेट करना होगा. इसलिए लोगों को कोरोना वायरस के फैलने से देश के सामने आने वाली किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार रहना होगा.

चीफ डिफेंस ऑफ स्टाफ जनरल बिपिन रावत (Courtesy- PTI)
मंजीत सिंह नेगी
  • नई दिल्ली,
  • 25 मार्च 2020,
  • अपडेटेड 2:57 PM IST

  • आइसोलेशन-क्वारनटीन इंफ्रास्ट्रक्चर बनाने में हो सकती है सेनाओं की भूमिका
  • भारत में कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले लोगों की संख्या 580 के पार

देश के चीफ डिफेंस ऑफ स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने Covid-19 के खिलाफ जंग में सशस्त्र सेनाओं को गहराई से जुड़ने का आह्वान किया है. जनरल रावत ने बुधवार को कहा कि देश ऐसे मोड़ पर है जहां सशस्त्र बलों को अपने कार्यक्षेत्र (मैंडेट) से बाहर जाकर भूमिका निभानी होगी जिससे कोरोना वायरस के खिलाफ देश की जंग में मदद की जा सके.

CDS जनरल रावत ने इंडिया टुडे से खास बातचीत में कहा, “समय के इस मोड़ पर सेनाओं को मैंडेट के बाहर जाकर ऑपरेट करना होगा. इसलिए लोगों को कोरोना वायरस के फैलने से देश के सामने आने वाली किसी भी चुनौती का सामना करने के लिए तैयार रहना होगा.”

देश में कोरोना वायरस केसों की संख्या बुधवार दोपहर तक 580 से ज्यादा पहुंच चुकी थी. CDS जनरल रावत ने कहा, ‘सशस्त्र सेनाओं से सरकार को समर्थन और हर तरह की मदद देने की उम्मीद की जाती है.’

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

CDS के मुताबिक “ये सहायता आइसोलेशन और क्वारनटीन के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित करने से लेकर तात्कालिक सहायता के लिए स्पेशल मेडिकल केयर सेंटर बनाने में हो सकती है.”

सशस्त्र सेनाएं पहले ही 30,000 लोगों की क्षमता वाली क्वारनटीन सुविधा उपलब्ध करा रही हैं. यहां ईरान, चीन, इटली और मलेशिया जैसे बाहरी देशों से लाए गए 1500 लोगों को रखा गया है.

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ ने जोर दिया महामारी से लड़ना हर नागरिक का कर्तव्य है. उन्होंने कहा, “Covid-19 को काबू में रखने के लिए सभी सरकारी एजेंसियों की ओर से किए जा रहे साझा प्रयास तभी सफल होंगे अगर लोग समय समय पर दिए जा रहे दिशानिर्देशों का पालन करें.”

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

CDS जनरल रावत के मुताबिक सशस्त्र सेनाओं की ओर से अपने सभी जवानों और अधिकारियों को हिदायत दी हैं कि वे और उनके परिवार सरकार के निर्देशों का पूरी तरह पालन करें.

Read more!

RECOMMENDED