बंगाल पर गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी, BJP आज मनाएगी ब्लैक डे, 12 घंटे बंद

पश्चिम बंगाल में बवाल थमता नजर नहीं आ रहा है. शनिवार को उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद बीजेपी ने सोमवार को बसिरहाट में 12 घंटे के बंद का ऐलान किया है. बीजेपी 10 जून को पूरे राज्य में  'काला दिवस' के तौर पर मनाएगी. 12 जून को विरोध रैली निकाली जाएगी.

शोकयात्रा को रोकते पुलिसकर्मी.
मनोज्ञा लोइवाल/इंद्रजीत कुंडू
  • कोलकाता,
  • 09 जून 2019,
  • अपडेटेड 7:40 AM IST

पश्चिम बंगाल में बवाल थमता नजर नहीं आ रहा है. शनिवार को उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद बीजेपी ने सोमवार को बसिरहाट में 12 घंटे के बंद का ऐलान किया है. बीजेपी 10 जून को पूरे राज्य में  'काला दिवस' के तौर पर मनाएगी. 12 जून को विरोध रैली निकाली जाएगी. बसिरहाट के संदेशखली में झंडा हटाए जाने को लेकर टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प में 8 लोगों के मारे जाने की खबर है. इनमें से 5 कार्यकर्ता बीजेपी और 3 टीएमसी के बताए जा रहे हैं.

रविवार को बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में मारे गए कार्यकर्ताओं की शोकयात्रा निकाली, जिसे पुलिस ने रोक दिया. पार्टी कार्यकर्ताओं के शवों को लेकर प्रदेश के शीर्ष भाजपा नेता मलंचा रोड से गुजर रहे थे. यह सड़क बसिरहाट को कोलकाता से जोड़ती है.

शोकयात्रा में सांसद और प्रदेश बीजेपी के चीफ दिलीप घोष, हुगली की सांसद लॉकेट चटर्जी, राहुल सिन्हा और अन्य नेता शामिल थे. बीजेपी नेता कार्यकर्ताओं के पार्थिव शव कोलकाता स्थित पार्टी मुख्यालय ले जाना चाहते थे. लेकिन उनसे कहा गया कि उन्हें शवों के साथ कोलकाता में घुसने नहीं दिया जाएगा क्योंकि इससे कानून एवं व्यवस्था खराब हो सकती है.

किसी तरह शोकयात्रा मलंचा रोड को पार कर गई लेकिन मिनाखा में तैनात पुलिसकर्मियों ने उन्हें दोबारा रोक लिया. पार्टी नेता लॉकेट चटर्जी ने कहा, ''मारे गए कार्यकर्ताओं के परिवार वाले पार्टी मुख्यालय में शव ले जाना चाहते हैं. लेकिन ममता बनर्जी की पुलिस हमें यह कहकर रोक रही है कि अंतिम संस्कार गांव में होगा. अगर पुलिस ने हमें नहीं छोड़ा तो सड़क पर ही अंतिम संस्कार किया जाएगा.''

कई बीजेपी कार्यकर्ताओं के हाथों में सड़क पर अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियां भी थीं. काफी मनाने के बाद बीजेपी नेता दो पार्टी कार्यकर्ताओं के शव संदेशखली ले जाने पर राजी हुए. उनका वहीं अंतिम संस्कार किया जाएगा. बीजेपी सोमवार को पुलिस के रोल को लेकर कोर्ट जाने की तैयारी कर रही है. जबकि अन्य कार्यकर्ताओं के शवों को उनके घर भेजा जा रहा है.

फिर भिड़े बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ता

कूचबिहार के सितलकुची इलाके में रविवार को तनाव फैल गया. संदेशखली में हत्या को लेकर बीजेपी ने विरोध प्रदर्शन आयोजित किया. लेकिन सड़क जाम किए जाने के बाद टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं में झड़प हो गई. इसमें एक बीजेपी कार्यकर्ता को गोली लगी है और अन्य घायल हुए हैं.

फूंका ममता का पुतला

वहीं हावड़ा में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तस्वीर पर जूते चलाए और पुतला फूंका. पार्टी कार्यकर्ताओं की हत्या के बाद उन्होंने हावड़ा रेलवे स्टेशन के पास जसोर रोड को ब्लॉक कर दिया. शाम को उन्होंने कैमरे के सामने जय श्री राम के नारे लगाए और सीएम ममता का पुतला फूंका.  

गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी

लोकसभा चुनाव के बाद बंगाल में जारी हिंसा को लेकर गृह मंत्रालय ने भी चिंता जताते हुए राज्य सरकार को एडवाइजरी जारी की है. इंडिया टुडे से बातचीत में बंगाल के बीजेपी प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, मैंने बीजेपी चीफ अमित शाह को हिंसा और कार्यकर्ताओं को निशाना बनाने की बात बताई है. उन्होंने कहा, जल्द ही प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति और गृह मंत्री से बंगाल की स्थिति को लेकर बीजेपी नेता मुलाकात करेंगे.

Read more!

RECOMMENDED