J-K से क्यों हटा 370, आम और खास लोगों को बताएंगे बीजेपी नेता

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने जम्मू-कश्मीर से 370 हटाए जाने पर उठ रहे सवालों का जवाब देने के लिए अब जनता के बीच जाने की तैयारी की है. वहीं मुख्यमंत्री, मंत्री और पार्टी के नेता देश के बुद्धिजीवियों से भेंटकर उनका समर्थन मांगेंगे.

बीजेपी मुख्यालय पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करते केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान. (फोटो-ट्विटर)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 27 अगस्त 2019,
  • अपडेटेड 11:16 AM IST

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के ऐतिहासिक फैसले के बाद अब जनता के बीच जाने की तैयारी की है. एक से 30 सितंबर तक राष्ट्रव्यापी जनसंपर्क अभियान चलेगा. हरियाणा, झारखंड और महाराष्ट्र के विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के इस कार्यक्रम की तैयारी से सियासी सरगर्मियां बढ़ गई हैं. इससे पहले अनुच्छेद 370 हटने पर राज्यों की इकाइयों की ओर से प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की गई थी . इस बार देश भर की हस्तियों से भेंट करने और जनता के बीच जाकर 370 हटाने के पीछे की वजहों को बताया जाएगा. बीजेपी के नेता बुद्धिजीवियों से इस मसले पर समर्थन मांगेंगे.

देश भर में चार सौ से अधिक छोटे-बड़े शहरों में बीजेपी ने कार्यक्रम की तैयारी की है. जहां केंद्र और राज्यों के मंत्री, सांसद सहित पार्टी के पदाधिकारी हिस्सा लेकर जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के जनता को लाभ बताएंगे. जम्मू-कश्मीर में भी नौ स्थानों पर कार्यक्रम होंगे.

मुख्यमंत्री भी बुद्धिजीवियों से मिलेंगे

कार्यक्रम के मुताबिक केंद्रीय मंत्री, बीजेपी के मुख्यमंत्री और पार्टी पदाधिकारी गणमान्य व्यक्तियों से मिलेंगे. सेलिब्रेटीज से भी संपर्क करेंगे. इस कार्यक्रम के संयोजकों में शामिल केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि हम जनता और गणमान्य व्यक्तियों को बताएंगे कि किस तरह से अनुच्छेद 370 जम्मू-कश्मीर के विकास में बाधक बना हुआ था. अब इस घटना से होने वाले लाभ बताएंगे.

जनजागरुकता अभियान के तहत डोर टू डोर कैंपेन, बैठक, रैली, सभाएं और जनसंपर्क होगा. गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के सशक्त नेतृत्व में जम्मू-कश्मीर से 370 हटाने का देश का सपना साकार हुआ. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी, सह प्रभारी संजय मयूख मौजूद रहे.

Read more!

RECOMMENDED