ओवैसी का भागवत पर हमला, बोले- आबादी नहीं, बेरोजगारी देश की असल समस्या

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि आरएसएस के मोहन भागवत ने टू चाइल्ड पॉलिसी की बात कही. नौकरी कितनों को दी है वो बताइए.

असदुद्दीन ओवैसी (फाइल फोटो)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 19 जनवरी 2020,
  • अपडेटेड 8:55 AM IST

  • मोहन भागवत के जनसंख्या नियंत्रण के तहत बताई टू चाइल्ड पॉलिसी
  • देश में वास्तविक समस्या बेरोजगारी, न कि जनसंख्या: असदुद्दीन ओवैसी

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत पर हमला बोला है. मोहन भागवत के जनसंख्या नियंत्रण के तहत टू चाइल्ड पॉलिसी को लेकर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा है कि देश में वास्तविक समस्या बेरोजगारी है, न कि जनसंख्या.

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि आरएसएस के मोहन भागवत ने टू चाइल्ड पॉलिसी की बात कही. नौकरी कितनों को दी है वो बताइए. साल 2018 में औसतन 36 बच्चों ने हर रोज आत्महत्या की. बताओ उस पर क्या कहेंगे आप? भारत में 60 फीसदी आबादी 40 साल से कम उम्र के बच्चों की है, उनकी बात नहीं करेंगे.

यह भी पढ़ें: मथुरा-काशी नहीं, RSS के एजेंडे में अब जनसंख्या नियंत्रण कानून

दरअसल, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के सर संघचालक मोहन भागवत ने जनसंख्या वृद्धि के मुद्दे पर कहा है कि अब देश में दो बच्चों के कानून की जरूरत है. उनका कहना है कि इसके लिए जनसंख्या वृद्धि पर सोचना होगा. उन्होंने हालांकि यह भी साफ किया कि इस संबंध में अंतिम फैसला सरकार को लेना है.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त को लाल किले के भाषण में जनसंख्या का मुद्दा उठाया था और लोगों से परिवार नियोजन अपनाने की बात कही थी. इस मुद्दे पर कई सरकारी, गैर सरकारी और सामाजिक संस्थाएं लोगों को जागरूक करने के लिए अभियान भी चला रही हैं.

Read more!

RECOMMENDED