अरुणाचल प्रदेश में लापता हुए एएन-32 विमान का सुराग देने वालों को एयरफोर्स देगी 5 लाख

रक्षा प्रवक्ता विंग कमांडर रत्नाकर सिंह ने कहा, 'ये वे लोग हैं जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से उन खोज अभियानों में शामिल थे, जिनके कारण जून में लापता हुए एएन-32 विमान का पता चल पाया था.'

प्रतीकात्मक तस्वीर
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 15 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 12:23 AM IST

  • दस लोगों को पांच लाख रुपए का इनाम देने की घोषणा
  • विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने से 13 लोगों की मौत हो गई थी

भारतीय वायुसेना ने इस साल तीन जून को अरुणाचल प्रदेश में लापता हुए परिवहन विमान एएन-32 का पता लगाने में मदद करने वाले दस लोगों को पांच लाख रुपये का नकद इनाम देने की घोषणा की है. रूस निर्मित इस विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने से इसमें सवार सभी 13 लोगों की मौत हो गई थी.

वायुसेना ने शनिवार को जानकारी दी कि ईस्टर्न एयर कमांड के एयर मार्शल आर.डी. माथुर 17 सितंबर को अरुणाचल प्रदेश में आयोजित होने वाले एक समारोह के दौरान लोगों को पुरस्कृत करेंगे. रक्षा प्रवक्ता विंग कमांडर रत्नाकर सिंह ने कहा, 'ये वे लोग हैं जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से उन खोज अभियानों में शामिल थे, जिनके कारण जून में लापता हुए एएन-32 विमान का पता चल पाया था.'

वायुसेना अलग-अलग क्षेत्रों से संबंध रखने वाले 10 लोगों को सम्मानित करेगी, जिनमें उपायुक्त से लेकर पर्वतारोही और ग्रामीण भी शामिल हैं. रूस में निर्मित एएफ-32 परिवहन विमान ने तीन जून को 12:27 बजे असम के जोरहाट से उड़ान भरी थी.

इस विमान को चीन की सीमा से सटे अरुणाचल प्रदेश के शियोमी जिला स्थित मेचुका एडवांस्ड लैंडिंग ग्राउंड पर उतरना था. मगर विमान का ग्राउंड स्टाफ से दोपहर 1:30 बजे संपर्क टूट गया. दुर्घटनाग्रस्त होने के दो सप्ताह से भी अधिक समय के बाद लापता एएन-32 विमान का मलबा लिपो इलाके में पाया गया था.

Read more!

RECOMMENDED