महाराष्ट्र: पीएम मोदी के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट करने वाला शख्स गिरफ्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट के मामले में महाराष्ट्र पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक चंद्रपुर के रहने वाले बलिराज धोटे ने सोशल मीडिया पर पीएम मोदी और स्मृति ईरानी की फोटो एडिट करके पोस्ट की थी. इस पोस्ट के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन भी किया था.

PM नरेंद्र मोदी (फाइल-इंडिया टुडे आर्काइव)
साहिल जोशी/पंकज खेलकर
  • मुंबई,
  • 27 अगस्त 2019,
  • अपडेटेड 11:34 AM IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट के मामले में महाराष्ट्र पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक, चंद्रपुर के रहने वाले 55 साल के बलिराज धोटे ने सोशल मीडिया पर पीएम मोदी और स्मृति ईरानी की फोटो एडिट करके पोस्ट की थी.

इस आपत्तिजनक पोस्ट के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की महिला कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन भी किया था और बीजेपी आईटी सेल ने पुलिस में इसके खिलाफ शिकायत भी दर्ज कराई थी. शिकायत के आधार पर पुलिस ने रविवार सुबह 4 बजे आरोपी काशीनाथ धोटे को गिरफ्तार कर लिया.

महाराष्ट्र पुलिस ने काशीनाथ धोटे के खिलाफ धारा 354 अ (1), (4), और सूचना तकनीकी आधीनियम 2000 की धारा 67 के तहत अपराध दर्ज किया है.

पुलिस ने बलिराज धोटे के पोस्ट के खिलाफ आंदोलन कर रहीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की महिला कार्यकर्ताओं पर भी मामला दर्ज कर लिया है. इन पर बिना अनुमति के आंदोलन करने पर चंद्रपुर की मेयर अंजलि घोटेकर समेत 35 महिलाओं पर मामला दर्ज किया गया है. उनके प्रदर्शन के खिलाफ बलिराज धोटे के समर्थकों ने शिकायत की थी.

पुतला भी फूंका गया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की आपत्तिजनक फोटो फेसबुक पर पोस्ट करने पर बीजेपी महिला कार्यकर्ताओं ने जूता मार आंदोलन कर पुतला फूंका.

चंद्रपुर के बलिराज धोटे नाम के व्यक्ति ने प्रधानमंत्री मोदी और स्मृति ईरानी की फोटो को एडिट कर फेसबुक पर लोड कर दिया था. इस आपत्तिजनक पोस्ट से बीजेपी कार्यकर्ताओं में जबर्दस्त रोष था. प्रदर्शन के दौरान पोस्ट करने वाले व्यक्ति के पुतले को जूतों से पीटकर उसे आग के हवाले कर दिया गया था.

महिला कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन में बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद थीं. प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि पोस्ट करने वाले शख्स को ताड़ीपार किया जाए.

खास बात यह है कि आपत्तिजनक पोस्ट करने वाला शख्स कई साल पहले बीजेपी का कार्यकर्ता था और 1984-85 में बीजेपी के जिला महासचिव थे. लेकिन विधानसभा चुनाव के लिए कई बार प्रयास करने के बाद भी सीट नहीं मिलने पर उन्होंने पार्टी छोड़ दी थी और तब से वह बीजेपी विरोधी गतिविधियों में सक्रिय हो गए थे.

Read more!

RECOMMENDED