पत्थरबाजी पर शिवराज का सोनिया-राहुल पर निशाना, कहा- कांग्रेस मेरे खून की प्यासी

मध्य प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाने के लिए जन आशिर्वाद यात्रा के माध्यम से पूरे प्रदेश का भ्रमण कर रहे हैं.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
विवेक पाठक
  • भोपाल,
  • 03 सितंबर 2018,
  • अपडेटेड 5:04 PM IST

मध्यप्रदेश के चुरहट में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के काफिले पर हुए पथराव की घटना ने राजनीतिक रूप ले लिया है. राज्य के गृहमंत्री के बाद अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीधे विपक्षी कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा है कि कांग्रेस उनके खून की प्यासी हो गई है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, कांग्रेस मेरे खून की प्यासी हो गई है. मध्य प्रदेश की राजनीति में यह कभी नहीं हुआ. विचारों का संघर्ष चलता था, अलग अलग पार्टियां अपने अपने कार्यक्रम करती थीं, लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ.

शिवराज ने आगे कहा कि, मैं सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ से पूछना चाहता हूं कि, वे कांग्रेस को किस दिशा में ले जा रहे हैं? जो उनके नेता और कार्यकर्ता कर रहे हैं क्या वो सही है?

मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव को लेकर इससे पहले राज्य के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह ने बयान दिया था कि मुख्यमंत्री के काफिले पर हमला करने वाले सभी आरोपी कांग्रेसी थे. उन्होंने कहा है कि इस मामले में अभी तक 8 कांग्रेस नेताओं को गिरफ्तार किया गया है.

बता दें कि अभी तक इस मामले में कुल 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि इस घटना के बाद सीएम की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. वहीं इस घटना के अंजाम देने वाले सरगना को बख्शा नहीं जाएगा.

राज्य के गृहमंत्री ने कहा कि इस यात्रा को लेकर कांग्रेस पहले से ही हताश और निराश है. पहले कांग्रेस के लोग अपशब्दों का प्रयोग करते थे और अब हिंसा पर उतारू हो गए हैं. कांग्रेस का ये चरित्र है वो सत्ता पाने किसी भी सीमा तक जा सकती है.

बता दें कि मध्य प्रदेश के चुरहट में रविवार देर शाम मुख्यमंत्री की जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान सीएम के रथ पर अज्ञात लोगों ने पत्थर फेंक दिया.

हालांकि, पत्थर फेंकने की घटना में किसी को भी चोट तो नहीं लगी, लेकिन सीएम के रथ के शीशे जरूर चटक गए. इसके अलावा सीधि में भी मुख्यमंत्री को काले झंडे दिखाए गए थे.

Read more!

RECOMMENDED