भोपाल में अफसरों को पसंद आया केजरीवाल का फॉर्मूला, बिकने लगी सस्ती प्याज

भोपाल के बिट्टन मार्केट, बैरागढ़ सब्जी मंडी, भेल पिपलानी और कोलार के सर्वधर्म इलाके में जिला प्रशासन ने सस्ती प्याज का स्टॉल लगाया, जहां 50 रुपये प्रति किलो की दर से अच्छी क्वालिटी की प्याज बेची जा रही है.

जिला प्रशासन ने अलग-अलग इलाकों में सस्ती प्याज का स्टॉल लगाया है
रवीश पाल सिंह
  • भोपाल,
  • 14 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 8:18 PM IST

  • भोपाल में चार जगहों पर स्टॉल लगाए गए
  • 50 रुपये प्रति किलो बेची जा रही है प्याज

दिल्ली की केजरीवाल सरकार का महंगी प्याज से राहत देने का फॉर्मूला मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के जिला प्रशासन को लगता है पसंद आया है. यही वजह है कि दिल्ली सरकार की तर्ज पर भोपाल में जिला प्रशासन ने अलग-अलग इलाकों में सस्ती प्याज का स्टॉल लगाया है.

गुरुवार को भोपाल में चार जगहों पर स्थानीय प्रशासन स्टॉल लगाकर सस्ती प्याज बेची जा रही है. भोपाल के बिट्टन मार्केट, बैरागढ़ सब्जी मंडी, भेल पिपलानी और कोलार के सर्वधर्म इलाके में जिला प्रशासन ने सस्ती प्याज का स्टॉल लगाया, जहां 50 रुपये किलो की दर से अच्छी क्वालिटी की प्याज बिक रही है.

बता दें कि राजधानी भोपाल के बाजार में प्याज 80 से 90 रुपए किलो के भाव से बिक रही है. जिला प्रशासन के मुताबिक, इससे अन्य व्यापारी भी प्याज की कीमत को कम करेंगे. ये स्टाल सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक खुले रहेंगे, जिसमें हर व्यक्ति को 2 किलो प्याज ही दी जाएगी.  

वहीं, सस्ती प्याज मिलने से ग्राहक भी काफी खुश हैं. चार इमली से प्याज लेने आई अनन्या ने बताया कि सुबह जब उन्होंने अखबार में पढ़ा कि बिट्टन मार्केट में 50 रुपये किलो के रेट से प्याज बिकेगी तो वो अपनी बहन के साथ यहां प्याज लेने आ गईं.

अनन्या ने बताया कि यहां मिलने वाला प्याज बहुत अच्छी क्वालिटी की है जो बाहर करीब 90 रुपये किलो में बिक रही है. वहीं, प्रशासन के सस्ती प्याज बेचने का असर भी दिखना शुरू हो गया है. बिट्टन मार्केट में अन्य व्यापारियों ने प्रशासन के रेट से कम दाम में प्याज बेचना भी शुरू कर दिया है, जिसके जवाब में शासन का कहना है कि उनका मकसद ही प्याज की ऊंची कीमत को कम करना है.

Read more!

RECOMMENDED