CM तीर्थ दर्शन योजना के बाद BJP का तंज, पहले सिखों से माफी मांगें कमलनाथ

भोपाल के नरेला से बीजेपी विधायक विश्वास सारंग ने कहा कि करतारपुर साहिब को सीएम तीर्थ दर्शन योजना में शामिल करने का हम स्वागत करते हैं लेकिन इसके साथ ही कमलनाथ जी को स्पष्ट करना चाहिए कि 1984 के सिख दंगों में उनकी क्या भूमिका थी.

भोपाल के नरेला से बीजेपी विधायक विश्वास सारंग
रवीश पाल सिंह
  • भोपाल,
  • 14 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 1:43 PM IST

  • बीजेपी ने करतारपुर साहिब तीर्थ योजना पर कमलनाथ पर साधा निशाना
  • सीएम कमलनाथ ने 1984 दंगों के मामले में सिखों से माफी मांगने को कहा

करतारपुर साहिब तीर्थ को मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में शामिल करने को लेकर बीजेपी ने स्वागत करते हुए ही सीएम कमलनाथ पर निशाना भी साध दिया है. बीजेपी ने सीएम कमलनाथ से 1984 दंगों के मामले में सिखों से माफी मांगने को कहा है.

क्या कहा  बीजेपी विधायक विश्वास सारंग ने

भोपाल के नरेला से बीजेपी विधायक विश्वास सारंग ने कहा कि करतारपुर साहिब को सीएम तीर्थ दर्शन योजना में शामिल करने का हम स्वागत करते हैं लेकिन इसके साथ ही कमलनाथ जी को स्पष्ट करना चाहिए कि 1984 के सिख दंगों में उनकी क्या भूमिका थी. मुझे लगता है कि कमलनाथ जी को देश से और सिख समुदाय से माफी मांगनी चाहिए. पीछे के दरवाजे से राजनीतिक सन्देश देकर करतारपुरा साहिब जी का सहारा ले रहे हैं.'

बीजेपी की तरफ से ये तीखी प्रतिक्रिया

बता दें कि बुधवार शाम को कमलनाथ सरकार के अध्यात्म विभाग ने आदेश जारी करते हुए सिखों के प्रमुख धार्मिक स्थल करतारपुर साहिब को मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना में शामिल किया था. उसके एक दिन बाद ही बीजेपी की तरफ से ये तीखी प्रतिक्रिया आयी है. इससे पहले दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने भी कुछ दिन पहले ही सोनिया गांधी को पत्र लिख कमलनाथ और जगदीश टाइटलर को कांग्रेस से बाहर करने की मांग कर चुके हैं.

बीजेपी के आरोपों पर कांग्रेस ने भी पलटवार किया है. मध्यप्रदेश के कानून मंत्री पीसी शर्मा ने आजतक से बात करते हुए कहा है कि 'बीजेपी मध्यप्रदेश में 15 सालों से सत्ता में रहकर पाप कर रही थी और इसलिए हर किसी को उसी दृष्टि से देखती है. कमलनाथ जी पर कोई दाग नहीं है. सभी कोर्ट से कमकनाथ जी बेदाग साबित हो चुके हैं.'  

Read more!

RECOMMENDED