कट्टरपंथियों के निशाने पर रांची की योगा गर्ल राफिया नाज, ग्रेनेड से उड़ा देने की धमकी

रांची की राफिया नाज चार साल से योग सिखा हैं. वह बाबा रामदेव के साथ योग कर चुकी हैं, वह भी 20 हजार लोगों के सामने. राफिया इस वक्त अनाथ बच्चों को मुफ्त योग प्रशिक्षण देती हैं. जब से राफिया कट्टरपंथियों की निगाह में आईं उन्हेंधमकियां मिलनी शुरू हो गईं. राफिया को गलत परिणाम भुगतने की धमकी दी गई, उस पर हमले की भी कोशिश हुई. पुलिस प्रशासन ने खानापूर्ति करते हुए उन्हें सुरक्षा तो दे दी लेकिन धमकी देने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई है.

राफिया नाज, योग शिक्षक (फोटो-फेसबुक)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 13 मई 2019,
  • अपडेटेड 5:00 PM IST

योग की शिक्षा देकर नाम कमाने वाली झारखंड की राजधानी रांची की राफिया नाज मजहबी कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं. बीती रात उन्हें ग्रेनेड से उड़ा देने की धमकी दी गई है. इसके बाद उनके घरवाले काफी परेशान हैं. राफिया लंबे समय से बच्चों को योग सिखा रही हैं. राफिया का योग प्रेम कई कट्टरपंथियों को फूटी आंखों नहीं सुहाता है. इस वजह से उन्हें लगातार धमकियां मिल रही हैं. उनके खिलाफ फतवा भी जारी किया जा चुका है.

राफिया नाज 4 साल से योग सिखा रही हैं. वह बाबा रामदेव के साथ योग कर चुकी हैं, वह भी 20 हजार लोगों के सामने. राफिया इस वक्त अनाथ बच्चों को मुफ्त योग प्रशिक्षण देती हैं. जब से राफिया कट्टरपंथियों की निगाह में आईं उन्हें धमकियां मिलनी शुरू हो गईं. राफिया को गलत परिणाम भुगतने की धमकी दी गई, उस पर हमले की भी कोशिश हुई. पुलिस प्रशासन ने खानापूर्ति करते हुए उन्हें सुरक्षा तो दे दी लेकिन धमकी देने वालों पर कार्रवाई नहीं हुई है.

रविवार रात को राफिया को धमकियां देने का सिलसिला फिर से शुरू हो गया. अपने फोन पर आई धमकी को राफिया ने रिकॉर्ड कर लिया. हालांकि हैरानी की बात है कि राफिया ने जब इसकी शिकायत पुलिस से की तो पुलिस उन्ही के घर तलाशी लेने पहुंच गई और उनके भाई को रात भर हिरासत में रखा.

वहीं पुलिस और प्रशासन का कहना है कि वे राफिया की सुरक्षा को लेकर अलर्ट हैं. रांची रेंज के डीआईजी अमोल होमकर वेणुकांत ने कहा कि आला अधिकारियों की टीम इस मामले को देख रही है. राफिया ने मेल कर प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों से मदद मांगी है.

राफिया को पुलिस ने डोरंडा थाने में बुलाया है. राफिया का कहना है कि अनाथ बच्चों का कोई धर्म नहीं होता है. उनको योग सिखाना मेरे लिए सबसे बड़ा पुण्य का काम है. वहीं धमकी के बारे में रफिया ने बताया कि ऐसी धमकी पिछले तीन सालों से मिल रही है. लेकिन बीते दो महीनों से लगातार धमकी मिल रही है. राफिया ने कहा कि वे लोग कहते थे उठवा लेंगे, मार देंगे. राफिया ने कहा कि वह झुकने वालों में से नहीं है. 

Read more!

RECOMMENDED