लालू यादव की जमानत पर सुनवाई 22 नवंबर तक के लिए टली

चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू यादव की जमानत याचिका पर शुक्रवार को झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. इस दौरान सीबीआई ने काउंटर एफिडेविट दायर करने के लिए समय मांगा. इसके बाद कोर्ट ने लालू यादव की जमानत याचिका पर सुनवाई 22 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दी.

लालू प्रसाद यादव (फाइल फोटो)
aajtak.in/सत्यजीत कुमार
  • रांची,
  • 08 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 5:52 PM IST

  • लालू प्रसाद यादव ने झारखंड हाईकोर्ट में लगाई है जमानत याचिका
  • चारा घोटाला मामले में 14 साल की जेल की सजा काट रहे हैं लालू

चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर शुक्रवार को झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. इस दौरान सीबीआई ने काउंटर एफिडेविट दायर करने के लिए समय की मांग की. जिसके बाद कोर्ट ने लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका पर सुनवाई 22 नवंबर तक के लिए स्थगित कर दी.

आपको बता दें कि झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस अपरेश सिंह के समक्ष दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में जमानत याचिका दायर की गई है. इस मामले में लालू प्रसाद यादव को 7-7 साल की सजा सुनाई गई है.

इससे पहले भी लालू प्रसाद यादव ने झारखंड हाईकोर्ट में जमानत के लिए याचिका दायर की थी, लेकिन हाईकोर्ट ने जमानत याचिका खारिज कर दी थी. इसके बाद लालू प्रसाद यादव ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. हालांकि राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को कोई राहत नहीं मिली थी.

वहीं, हाल ही में लालू प्रसाद यादव को तबीयत बिगड़ने के चलते रांची के राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (RIMS) के प्राइवेट वार्ड में भर्ती कराया गया था. चारा घोटाला में दोषी करार दिए जाने के बाद से जेल में बंद लालू प्रसाद यादव की सेहत अक्सर खराब रहती है. इसकी वजह से उन्हें कई बार रिम्स में भर्ती कराना पड़ा है.

Read more!

RECOMMENDED