हिमाचल प्रदेश समेत कई इलाकों में बर्फबारी, बद्रीनाथ में 10 फीट से अधिक तक बर्फ

बद्रीनाथ धाम इस समय भारी बर्फ की आगोश में है. यहां जनवरी से लगातार बर्फबारी होने के बाद मंदिर सहित पूरा का पूरी बद्रीनाथ धाम बर्फ में समा गया है. इसके अलावा हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में बर्फीली आफत जारी है.

हिमाचल के कई इलाकों में हुई बर्फबारी (फाइल फोटो)
aajtak.in
  • शिमला,
  • 17 मार्च 2019,
  • अपडेटेड 8:40 AM IST

बद्रीनाथ धाम इस समय भारी बर्फ की आगोश में है. यहां जनवरी से लगातार बर्फबारी होने के बाद मंदिर सहित पूरा का पूरी बद्रीनाथ धाम बर्फ में समा गया है. जहां नजर घुमाओ वहां सिर्फ बर्फ ही बर्फ नजर आ रही है. बर्फ के अलावा यहां एक भी परिंदा इस समय नहीं दिखाई देगा.

यह बद्रीनाथ धाम के मुख्य मंदिर का दृश्य है, जहां यात्रियों की भारी भीड़ रहती है, लोग यहां भगवान बद्री विशाल के दर्शनों के लिए घंटों इंतजार करते हैं, लेकिन इस समय भगवान के कपाट बंद है और पूरे मंदिर परिसर में 10 फीट से अधिक बर्फ जमी हुई है. तापमान अभी भी माइनस 7 से 8 डिग्री के करीब है और धाम के रास्ते पूरी तरह से बंद पड़े हुए हैं.

बद्रीनाथ मंदिर के बाहर 10 फीट तक जमी बर्फ

हालांकि इस समय सड़क मार्ग को खोलने का काम शुरू हो गया है, लेकिन बड़े-बड़े ग्लेशियर होने के कारण रास्ते को खोलने में बहुत टाइम लग रहा है. इसके अलावा हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में बर्फीली आफत जारी है. कई जगहों पर अभी भी 3 से 4 फीट बर्फ जमा है, जिसकी वजह से तापमान माइनस 10 डिग्री तक गिर गया है.

कंधे पर लादकर सिलेंडर ले जाता युवक

आपको हिमाचल की दो अलग अलग तस्वीरें दिखा रहे हैं. पहली तस्वीर हिमाचल के काजा इलाके की है जहां करीब तीन फीट बर्फ में रास्ता बनाकर एक युवक कंधे पर लादकर सिलेंडर ले जाने पर मजबूर है. आगे एक शख्स रास्ता बना रहा है तो पीछे सिलेंडर लादकर दूसरा शख्स धीरे-धीरे आगे बढ रहा है.

वहीं दूसरी तस्वरी हिमाचल के केलॉन्ग की है, यहां भी बर्फीली आफत का असर देखने को मिल रहा है. बर्फबारी रुकने के बाद पीडब्लूडी के कर्मचारी सड़कों पर से बर्फ हटाने में जुट गए हैं. हालांकि यहां भी बर्फ की इतनी मोटी चादर फैली है कि पूरी सड़क को साफ करने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है.

Read more!

RECOMMENDED