खट्टर और मोदी सरकार ने हरियाणा में गुंडई और भ्रष्टाचार को किया खत्म: अमित शाह

अमित शाह ने एक रैली में कहा कि पहले  हरियाणा में ओमप्रकाश चौटाला आते थे तो गुंडई आती थी और भूपेंद्र सिंह हुड्डा आते थे तो किसानों की जमीन बिल्डरों को दे देते थे. मनोहर लाल खट्टर और पीएम मोदी की सरकार आई तो गुंडई और भ्रष्टाचार खत्म हुआ.

हरियाणा की एक रैली में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (फोटो-ANI)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 09 अक्टूबर 2019,
  • अपडेटेड 4:55 PM IST

  • शाह ने कहा, पीएम मोदी ने देश का सम्मान दुनिया में बढ़ाने का काम किया है
  • शाह बोले, परिवारवादी पार्टियों ने लोकतंत्र में दीमक लगाने का काम किया है

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को हरियाणा के भिवानी में चुनावी जनसभा को संबोधित किया. अमित शाह ने इस दौरान विपक्ष पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि पहले हरियाणा में ओमप्रकाश चौटाला आते थे तो गुंडई आती थी और भूपेंद्र सिंह हुड्डा आते थे तो किसानों की जमीन बिल्डरों को दे देते थे. मनोहर लाल खट्टर और पीएम मोदी की सरकार आई तो गुंडई और भ्रष्टाचार खत्म हुआ.

केंद्र की मोदी सरकार की सफलता को गिनाते हुए उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक कर के पूरी दुनिया को बताया कि भारत की सीमाओं के साथ कोई खिलवाड़ नहीं कर सकता और भारत के सैनिकों की जान की कीमत हम जानते हैं. बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि अमेरिका में हाउडी मोदी कार्यक्रम हुआ और पूरे विश्व ने पीएम मोदी की तारीफ की. पीएम मोदी ने देश का सम्मान दुनिया में बढ़ाने का काम किया है.

गांधी परिवार पर हमला

रैली में शाह ने कहा, कांग्रेस और अन्य परिवारवादी पार्टियों ने देश के लोकतंत्र को झकझोर कर इसमें दीमक लगाने का काम किया है. जो बड़ा नेता है, केवल उसी के परिवारजन को मुख्यमंत्री, सांसद और विधायक बनने का अधिकार है क्या? कांग्रेस में गांधी परिवार के अलावा कोई और अध्यक्ष बन सकता है क्या?

खड़गे को जवाब

बीजेपी अध्यक्ष ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को भी जवाब दिया जिन्होंने फ्रांस में राफेल विमान की पूजा पर सवाल उठाया था. शाह ने कहा, खड़गे साहब ने कहा कि राफेल की शस्त्र पूजा का तमाशा करने की क्या जरूरत थी. आप बताओ विजयदशमी के दिन दुश्मन पर विजय प्राप्त करने के लिए शस्त्र पूजा करनी चाहिए या नहीं? इसमें इनका दोष नहीं है, इनको इटली की संस्कृति की ज्यादा जानकारी है, भारत की संस्कृति की नहीं.

Read more!

RECOMMENDED