दिल्ली मेडिकल फोरम ने उठाए सवाल, कहा- दूषित पानी से हो रहीं बीमारियां

डॉक्टरों की एसोसिएशन दिल्ली मेडिकल फोरम ने पानी के मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिल्ली में पानी की गुणवत्ता पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि दिल्ली में जितने लोग डॉक्टर के पास अपनी समस्या लेकर आ रहे है, उनमें से 30 से 40 प्रतिशत लोगों में बीमारी का कारण खराब पानी है.

प्रतीकात्मक तस्वीर
रोहित मिश्रा
  • नई दिल्ली,
  • 04 दिसंबर 2019,
  • अपडेटेड 5:37 PM IST

  • मेडिकल फोरम ने दिल्ली में पानी की गुणवत्ता पर उठाए सवाल
  • 30 से 40 प्रतिशत लोगों में बीमारी का कारण खराब पानी

डॉक्टरों की एसोसिएशन दिल्ली मेडिकल फोरम ने पानी के मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिल्ली में पानी की गुणवत्ता पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि दिल्ली में जितने लोग डॉक्टर के पास अपनी समस्या लेकर आ रहे है, उनमें से 30 से 40 प्रतिशत लोगों में बीमारी का कारण खराब पानी है.

गंदे पानी से हो रहीं बीमारियां

दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन के चयनित अध्यक्ष डॉक्टर बीबी वाधवा ने कहा, 'सीलमपुर जैसे इलाकों से लोग उनके पास आते हैं उनमें से ज्यादातर गंदे पानी की वजह से होने वाली बीमारी के शिकार होते हैं.'

डॉक्टर प्रवीण खिलानी ने कहा, 'दिल्ली में एक साल में 1 लाख से ज्यादा मामले सिर्फ डायरिया के हैं क्योंकि लोगों के पास पीने का साफ पानी की व्यवस्था नहीं है. उनका कहना है कि साफ पानी नहीं मिलने की वजह से लोगों में डायरिया, लीवर से जुड़ी बीमारी, हेपेटाइटिस A और हेपेटाइटिस E, आंत की बीमारी, टाइफाइड और पेट में गैस जैसी कई बीमारियां सिर्फ पीने का साफ पानी नहीं मिलने की वजह से होती हैं.

डॉक्टरों की सलाह

डॉक्टरों ने सलाह दी है जिन लोगों को लूज मोशन, पेट में दर्द, उल्टी, उच्च दर्जे का बुखार, भूख न लगना और पीले पेशाब का आना जैसी समस्याएं हो रही हैं उन्हें तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए.

वहीं दिल्ली मेडिकल फोरम के कन्वेनर डॉक्टर हरीश गुप्ता ने कहा, 'सरकार को तुरंत पानी को लेकर एक अभियान शुरू करना चाहिए और इसकी शुरुआत सरकारी दफ्तरों से शुरू हो. साथ ही लोगों को जो वो पानी पीला रहे हैं उसकी जांच करानी चाहिए.

वॉटर प्यूरीफायर सेहत के लिए नहीं है बेहतर

वहीं दिल्ली सरकार के साफ पानी के बयान पर डॉक्टर हरीश गुप्ता ने कहा, 'अगर दिल्ली सरकार को पानी दिल्ली का पानी साफ लगता है तो सारे सरकारी ऑफिस, मंत्रियों और मुख्यमंत्री के ऑफिस और घर से वॉटर प्यूरीफायर और आरओ को हटाकर टैप का पानी पीना चाहिए.

साथ ही डॉक्टर हरीश गुप्ता ने कहा, 'आरओ का पानी भी ठीक नहीं है. ये सही है कि इससे पानी साफ होता है लेकिन पानी के अंदर मिलने वाले मिनरल्स आरओ से निकल जाता है, लेकिन जब आप पानी पीते हैं तब तो ठीक है. लेकिन लंबे समय बाद इसका नुकसान समझ में आने लगता है.'

Read more!

RECOMMENDED