'मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना' का पहला जत्था रवाना करेंगे अरविंद केजरीवाल

दिल्ली-अमृतसर-वाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब कॉरिडोर की पहली यात्रा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा 12 जुलाई को सफदरजंग स्टेशन से रवाना की जाएगी. इसके अलावा दिल्ली-वैष्णो देवी-जम्मू के लिए यात्रा 20 से 24 जुलाई तक होगी.

अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)
पंकज जैन
  • नई दिल्ली,
  • 04 जुलाई 2019,
  • अपडेटेड 12:12 AM IST

दिल्ली सरकार की 'मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना' के तहत पहली यात्रा को सीएम अरविंद केजरीवाल 12 जुलाई को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. इससे पहले केजरीवाल 4 जुलाई को इस योजना में शामिल होने वाले यात्रियों से दिल्ली सचिवालय में बातचीत करेंगे. दिल्ली सरकार ने 9 जनवरी 2018 को मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना का ऐलान किया था.

इस योजना में 5 तीर्थ यात्रा शामिल हैं-

1. दिल्ली - मथुरा - वृंदावन - आगरा - फतेहपुर सीकरी

2. दिल्ली - हरिद्वार - ऋषिकेश - नीलकंठ

3. दिल्ली - अजमेर - पुष्कर

4. दिल्ली - अमृतसर - वाघा बॉर्डर - आनंदपुर साहिब

5. दिल्ली - वैष्णो देवी - जम्मू

दिल्ली-अमृतसर-वाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब कॉरिडोर की पहली यात्रा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा 12 जुलाई को सफदरजंग स्टेशन से रवाना की जाएगी. इसके अलावा दिल्ली-वैष्णो देवी-जम्मू के लिए यात्रा 20 से 24 जुलाई तक होगी.

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बताया कि मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के तहत, सरकार सभी यात्रियों के लिए पूरा खर्च वहन करेगी, जिसमें वातानुकूलित ट्रेन यात्रा, आवास, भोजन, बोर्डिंग, ठहरने और अन्य व्यवस्थाएं शामिल हैं. 21 वर्ष से अधिक आयु का एक अटेंडेंट हर बुज़ुर्ग यात्री के साथ जा सकता है.

मंत्री ने बताया कि तीर्थ यात्रा से संबंधित एक नया सॉफ्टवेयर विकसित किया गया है. राजस्व विभाग को इस योजना के लिए पूरी दिल्ली से आवेदन प्राप्त हुए. इसके बाद दिल्ली पर्यटन विभाग ने उनकी जांच की और उन्हें IRCTC को भेज दिया. इसके बाद दिल्ली पर्यटन विभाग और IRCTC ने बुकिंग प्रक्रिया शुरू की.

दिल्ली सरकार इसके अलावा तिरुपति बालाजी, रामेश्वरम और शिरडी के लिए सुझाव जुटा रही है, आने वाले दिनों में इस योजना के विस्तार के लिए कैबिनेट का निर्णय लिया जा सकता है.

Read more!

RECOMMENDED