कैसे मिलेगी साफ हवा? दिल्ली का AQI अब भी खराब श्रेणी में

दिवाली के बाद से ही लगातार प्रदूषण की मार से जूझ रहे दिल्ली-एनसीआर के करोड़ों लोगों को बुधवार को बड़ी राहत मिली. सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने बुधवार शाम एयर क्वालिटी इंडेक्स 217 दर्ज किया.

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण से राहत (फाइल फोटो- Aajtak)
प्रशस्त‍ि शांडिल्य
  • नई दिल्ली,
  • 07 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 9:35 AM IST

  • प्रदूषण की मार से लोगों को मिली बड़ी राहत
  • बुधवार शाम को एयर क्वालिटी इंडेक्स 217 दर्ज

दिवाली के बाद से ही लगातार प्रदूषण की मार से जूझ रहे दिल्ली-एनसीआर के करोड़ों लोगों को बुधवार को बड़ी राहत मिली. सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड (CPCB) ने बुधवार शाम एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 217 दर्ज किया, जो खराब श्रेणी के अंतर्गत आता है.

इंडिया टुडे के डाटा इंटेलिजेंस यूनिट (DIU) के अनुसार, बुधवार को मौसम अनुकूल होने और दिल्ली में ऑड-ईवन योजना की शुरुआत होने की वजह से बीते 24 घंटे में प्रदूषण का स्तर 62 प्रतिशत घट गया.

कई शहरों में हवा की गुणवत्ता बेहतर

इसके अलावा पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के शहरों में भी एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) में सुधार हुआ. वहीं मेरठ, मुरादाबाद, पानीपत और पटियाला में हवा की गुणवत्ता बेहद खराब दर्ज की गई. हालांकि, दिल्ली, नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद जैसे शहरों में हवा की गुणवत्ता की स्थितियां बेहतर रहीं.

भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, 20 से 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी. वहीं, आसमान में बादल छाए रहने और हल्की बारिश के भी आसार हैं.

वेदर डेवलपमेंट के संबंध में भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने येलो अलर्ट के बारे में कहा है. वहीं, मजबूत सतह वाली हवाएं प्रदूषक तत्वों के फैलाव में मददगार होती हैं, जिससे दिल्ली वाले राहत की सांस ले सकेंगे.

ऑड-ईवन के कारण गाड़ियों की संख्या में कमी

श्रीजन ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में दिल्ली में मौसम में सुधार हुआ है. उन्होंने कहा कि ऑड-ईवन योजना के कारण गाड़ियों की संख्या में कमी आई है. वहीं, विनोद गुलाटी के अनुसार, ऑड-ईवन योजना लागू होने के तीसरे दिन बुधवार को प्रदूषण के खतरनाक स्तर से राहत महसूस कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि लंबे समय के बाद धूप निकलते देख खुशी हो रही है.

Read more!

RECOMMENDED