नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन प्रहार-3, निशाने में टॉप 20 नक्सली कमांडर

CRPF के DG आरआर भटनागर ने बताया कि नक्सलियों के खतरनाक इलाके में CRPF के 15 नए कैंप खोले गए हैं, जिसका मकसद नक्सलियों में सुरक्षा बलों का खौफ पैदा करना है. साथ ही आम लोगों का विश्वास जीतना है. CRPF के डीजी ने यह भी कहा कि आने वाले समय में नक्सलियों के खिलाफ राज्य सरकार की पुलिस बल के साथ मिलकर तेज ऑपरेशन चलाए जाएंगे.

फाइल फोटो
राम कृष्ण/अनिल कुमार
  • नई दिल्ली,
  • 07 सितंबर 2018,
  • अपडेटेड 9:26 PM IST

सुरक्षा बलों ने नक्सलियों का खात्मा कर उनके प्रभाव वाले इलाके को विकसित करने का प्लान बनाया है. CRPF के DG आरआर भटनागर ने आजतक से बातचीत में बताया, 'नक्सल इलाके में हम लोगों का बेसिक प्लान है कि सबसे पहले नक्सलियों का खात्मा किया जाए और फिर उनके दबदबे वाले एरिया को क्लियर किया जाए. इसके बाद एरिया डोमिनेशन करते हुए पूरे इलाके का विकास किया जाए.

उन्होंने बताया कि CRPF ने नक्सलियों के खतरनाक इलाके में इन तमाम चीजों को ध्यान में रखते हुए 15 नए कैंप खोले हैं, जिसका मकसद यह है कि नक्सलियों में सुरक्षा बलों का खौफ पैदा हो और आम लोगों का विश्वास CRPF जीत सके.

CRPF के डीजी ने यह भी कहा कि आने वाले समय में नक्सलियों के खिलाफ राज्य सरकार की पुलिस के साथ मिलकर तेज ऑपरेशन चलाए जाएंगे. साथ ही नक्सलियों की मदद करने वाले OGW यानी ओवर ग्राउंड वर्कर पर भी करारा प्रहार किया जाएगा, जिससे वो नक्सलियों की मदद न कर पाएं.

सुरक्षा विशेषज्ञ पीके सहगल ने आज़तक से बातचीत में कहा कि नक्सलियों के हौसले पस्त हैं. ऐसे में अगर उनको पता चलेगा कि उनकी पूरी जानकारी सुरक्षा एजेंसियों के पास है, तो वो चोरी-छिपे सुरक्षा बलों पर गुरिल्ला हमला करने से डरेंगे.

सहगल ने कहा कि नक्सलियों की हिट लिस्ट जारी होने से उनके लिए काम करने वाले ओवर ग्राउंड वर्कर भी ऐसा करने से बचेंगे. इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि आगे कोई खतरा नक्सली न पैदा कर सकें, इसलिए ह्यूमन टू ह्यूमन इंटेलीजेंस को मजबूत करना होगा.

सुरक्षा बलों के निशाने पर ये टॉप 20 नक्सली कमांडर

 

नक्सली कुछ इलाकों में एक तरफ अपने आपको मज़बूत करने में जुटे हुए हैं, तो दूसरी तरफ सुरक्षा एजेंसियां मोस्टवांटेड नक्सली कमांडर की लिस्ट बनाकर उनके खिलाफ जल्द ही बड़ा ऑपरेशन शुरू करने जा रही हैं.

सुरक्षा सूत्रों ने आजतक को जानकारी दी कि ऑपरेशन प्रहार-3 के तहत उन बड़े नक्सलियों को निशाना बनाने की तैयारी है, जो भोले-भाले युवाओं का ब्रेनवाश कर उनको नक्सल गतिविधियों में शामिल करने के लिए उकसाते हैं. सुरक्षा बलों ने जो टॉप 20 की लिस्ट जारी की है, उसमें PLGA-1 का सबसे बड़ा कमांडर हिडमा भी शामिल है.

हिडमा के बारे में सुरक्षा बलों को हाल ही में पता चला है कि वह सुकमा के जंगलों में छिपकर सुरक्षा बलों को निशाना बना सकता है. सूत्रों के मुताबिक़ इस लिस्ट में सिर्फ हिडमा ही नहीं, कई दूसरे नक्सली लीडर भी शामिल हैं. लिस्ट में मुप्पला लक्मना राव को सुरक्षा बलों ने टॉप लिस्ट में शामिल किया है.

बताया जा रहा है कि यह नक्सली कमांडर इस समय छत्तीसगढ़ के माड़ इलाके में अपनी गतिविधियों को चला रहा है. वहीं, दूसरी तरफ झारखंड से सटे सारंडा के जंगलों में अपनी नक्सली गतिविधियों को अन्जाम देने में जुटा नक्सली प्रशांत बोस या तो सरेंडर करेगा या फिर उसको ऑपरेशन प्रहार के तहत ढेर किया जाएगा. आजतक के पास जो 20 नक्सलियों की लिस्ट मौजूद है, उसके ये नक्सली शामिल हैं.....

 1- मुप्पला लक्मना राव- ये छत्तीसगढ़ के माड़ एरिया में अपनी गतिविधियां चलाता है.

2. प्रशांत बोस- यह झारखंड के सारंडा के जंगलों में सक्रिय है.

3. नम्बला केशव राव- इसकी गतिविधियां छत्तीसगढ़ के माड़ एरिया में देखने को मिलती हैं.

4. मल्लराजी रेड्डी- यह छत्तीसगढ़, आन्ध्र प्रदेश और ओडिशा के बॉर्डर पर अपनी गतिविधियों को चलाता है.

5. मल्लजुला वेणुगोपाल- यह नक्सली छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के जंगलों में सक्रिय है.

6. काटाकम सुरदर्शन- इस नक्सली कमांडर की गतिविधियों का एरिया छत्तीसगढ़ है.

7. मिसिर बेसरा- यह झारखंड में अपनी नक्सली गतिविधियों को चलाता है.

8. चन्दरी- यह झारखंड में अपनी गतिविधियों को सुरक्षा बलों के खिलाफ चलाता है.

9. थीपानी थिरुपति- इसका एरिया छत्तीसगढ़ है, जहां से ये अपनी नक्सली गतिविधियों को अंजाम देता है.

10. अक्की राज हरगोपाल- ये आन्ध्र प्रदेश और उड़ीसा के बॉर्डर पर सक्रिय है.

11. कदारत सत्यनारायण रेड्डी- ये नक्सली कमांडर छत्तीसगढ़ के बॉर्डर पर सक्रिय है.

12. पलूरी प्रसाद राव- ये खतरनाक नक्सली कमांडर छत्तीसगढ़ और तेलंगाना में अपनी गतिविधियों को चलाता है.

13. मॉडेम बालकृष्ण- यह ओडिशा में दबदबा बनाए हुए है.

14. मिलिंद तेलतुंबड़े- इन नक्सली का प्रभाव छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र के इलाकों में है.

15. रमन्ना- ये नक्सली कमांडर छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों को हमेशा निशाना बनाने की फिराक में रहता है.

16. सुधाकर- झारखंड में नक्सली कमांडर है.

17. प्रवेज़- यह बिहार में नक्सली कमांडर है.

18 असीम मंडल- झारखंड और पश्चिम बंगाल में अपनी गतिविधियों को फैलता है.

19. हरी भूषण- यह छत्तीसगढ़ में अपनी नक्सली हिंसा को अंजाम देता है.

20. हिडमा- यह छत्तीसगढ़ में PLGA1 का खतरनाक कमांडर है.

Read more!

RECOMMENDED