मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस के मुख्य आरोपी की 12 संपत्तियां ED ने की सीज

बालिका गृह कांड के उजागर होने के बाद ब्रजेश ठाकुर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था और उसे जेल भेज दिया था. फिलहाल बालिका गृह सेक्स स्कैंडल की जांच सुप्रीम कोर्ट की देखरेख में सीबीआई कर रही है.

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस का आरोपी ब्रजेश ठाकुर (फाइल फोटो)
रोहित कुमार सिंह
  • पटना,
  • 24 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 12:02 AM IST

  • ईडी ने संपत्ति जब्त करने की घोषणा करते हुए नोटिस चिपका दिया
  • ब्रजेश ठाकुर के आर्यन पैलेस होटल को ईडी ने जब्त कर लिया

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस के मास्टरमाइंड ब्रजेश ठाकुर की 12 संपत्तियों को सीज कर लिया है. ईडी ने एक होटल और आरडी पैलेस को भी सीज किया है, जिसका मालिकाना हक ब्रजेश ठाकुर के पास है.

पटना से प्रवर्तन निदेशालय की एक टीम मुजफ्फरपुर के मिठनपुरा इलाके पहुंची, जहां शेल्टर होम स्थित है. ईडी की टीम ने संपत्ति जब्त करने की घोषणा करते हुए नोटिस चिपका दिया. शेल्टर होम वास्तव में ब्रजेश ठाकुर का निवास था, जिसका एक हिस्सा महिलाओं और लड़कियों के लिए आश्रय गृह चलाने के लिए इस्तेमाल किया जाता था. इसी घर के बगल में ब्रजेश ठाकुर का आर्यन पैलेस नाम से होटल भी है जिसको प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने जब्त कर लिया.

गौरतलब है कि बालिका गृह कांड के उजागर होने के बाद ब्रजेश ठाकुर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था और उसे जेल भेज दिया था. फिलहाल बालिका गृह सेक्स स्कैंडल की जांच सुप्रीम कोर्ट की देखरेख में सीबीआई कर रही है.

बालिका गृह सेक्स स्कैंडल के खुलासे के बाद से ही प्रवर्तन निदेशालय ने ब्रजेश ठाकुर की तमाम संपत्तियों की जांच शुरू कर दी थी. जांच के दौरान प्रवर्तन निदेशालय ने ब्रजेश ठाकुर और उसके परिवार वालों की संपत्ति का आकलन किया जिसके बाद 3 सितंबर को उसकी सभी संपत्तियों के प्रोविजनल अटैचमेंट का निर्देश जारी किया गया था.

बता दें, बालिका गृह कांड में कुल 34 लड़कियों के साथ यौन शोषण का पिछले साल खुलासा हुआ था जिसके बाद इस पूरे मामले की जांच शुरू हुई और ठाकुर को गिरफ्तार कर लिया गया था. ब्रजेश ठाकुर फिलहाल पटियाला जेल में बंद है.

Read more!

RECOMMENDED