सुपर 30 में ऋतिक रोशन: क्यों नालंदा यूनिवर्सिटी में ट्रेलर लॉन्च करना चाहते थे मेकर्स?

ऋतिक रोशन की फिल्म सुपर 30 के मेकर्स चाहते थे कि फिल्म की पहली झलक नालंदा यूनिवर्सिटी में ही रिवील की जाए. ताकि दुनिया का ध्यान भारत की इस यूनिवर्सिटी तक पहुंच सके.

फिल्म सुपर 30 टीम
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 18 जून 2019,
  • अपडेटेड 12:01 PM IST

एक तरफ जहां ऋतिक रोशन की फिल्म सुपर 30 के ट्रेलर को सराहना मिल रही है. वहीं फिल्म के निर्माता बिहार स्थित दुनिया के सबसे पुराने शैक्षणिक संस्थान, नालंदा यूनिवर्सिटी में फिल्म का प्रमोशन करना चाहते थे. डीएनए ने सोर्स के हवाले से अपनी एक रिपोर्ट में लिखा है, "टीम के मेकर्स चाहते थे कि फिल्म की पहली झलक नालंदा यूनिवर्सिटी में ही रिवील की जाए. ताकि दुनिया का ध्यान भारत की इस यूनिवर्सिटी तक पहुंच सके."

हालांकि, वहां एक कार्यक्रम आयोजित करने का मतलब ये होगा कि फिल्म के प्रमुख एक्टर, ऋतिक रोशन की एक झलक पाने के लिए भारी भीड़ उमड़ पड़ेगी. मौजूदा सुरक्षा व्यवस्था स्थिति का प्रबंधन करने के लिए पर्याप्त नहीं है. इसलिए ऐसा नहीं किया गया. वैसे ऋतिक रोशन और सुपर 30 के निर्माता आने वाले दिनों में नालंदा जाने के इच्छुक हैं.

सोर्स के मुताबिक़ जब हमें पता चला कि नालंदा विश्वविद्यालय भाषा और शिक्षा के नए सेंटर्स लिए काम कर रहा है, तो हम सभी मौजूदा स्टूडेंट्स की उपस्थिति में ट्रेलर को रिलीज करना चाहते थे. दुर्भाग्य से, अधिकारियों ने हमें बताया कि उन्हें तैयारी के लिए ज्यादा समय की आवश्यकता होगी. क्योंकि इतने बड़े सुपरस्टार यहां आएंगे. इसी वजह से वहां ट्रेलर रिलीज नहीं हो पाया. लेकिन अब फिल्म के प्रमोशन के लिए वहां जा सकते हैं.

बता दें कि फिल्म 12 जुलाई को रिलीज होगी. मूवी को विकास बहल ने डायरेक्ट किया है. ऋतिक रोशन की फिल्म सुपर 30 गणितज्ञ आनंद कुमार के जीवन पर आधारित है. आनंद कुमार ने गरीब बच्चों को मुफ्त में आईआईटी की तैयारी के लिए सुपर 30 के नाम से एक कोचिंग इंस्टीट्यूट खोला था. इस इंस्टीट्यूट के कई बच्चे इंजीनियरिंग संस्थान में दाखिला पा चुके हैं. 

Read more!

RECOMMENDED