विवाद होने के बाद रानी की मर्दानी 2 से हटेगा कोटा का नाम, डायरेक्टर ने दी सफाई

रानी मुखर्जी की फिल्म मर्दानी 2 का ट्रेलर आने के बाद कोटा शहर के लोग इससे काफी नाराज हैं. कोटा में लोगों ने इस फिल्म के खिलाफ आवाज उठाते हुए कहा था कि इसमें गलत दिखाया जा रहा है, जिससे शहर का नाम बदनाम हो रहा है. अब यश राज फिल्म्स ने अपनी मर्दानी 2 से कोटा शहर का नाम हटाने का फैसला किया है.

रानी मुखर्जी
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 21 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 12:43 PM IST

रानी मुखर्जी की फिल्म मर्दानी 2 के ट्रेलर का आने के बाद कोटा शहर के लोग इससे काफी नाराज हैं. कोटा में लोगों ने इस फिल्म के खिलाफ आवाज उठाते हुए कहा था कि इसमें गलत दिखाया जा रहा है, जिससे शहर का नाम बदनाम हो रहा है. अब यश राज फिल्म्स ने अपनी मर्दानी 2 से कोटा शहर का नाम हटाने का फैसला किया है.

यश राज फिल्म्स को अपनी जनता की भावनाओं को समझने के लिए जाना जाता है. उन्होंने अब फैसला किया है कि मर्दानी 2 से कोटा का नाम हटाया जाएगा. डेकन क्रॉनिकल्स के मुताबिक, मर्दानी 2 के राइटर और डायरेक्टर गोपी पुथरन ने कहा, 'हमने इस बात की तरफ बिल्कुल भी इशारा नहीं किया है कि ऐसी बातें कोटा में हुई हैं और ना ही हमारा इस शहर के नाम को बदनाम करने का कोई इरादा था. हमारी फिल्म के ट्रेलर से लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं और इसके लिए हम शर्मिंदा हैं. हम समझते हैं कि फिल्म के ट्रेलर में कहा गया है कि फिल्म की कहानी असल जिंदगी पर आधारित है और हमारी फिल्म कोटा में बेस्ड है, तो लोगों को गलतफहमी हो सकती है. यश राज फिल्म्स ने इस शब्दों को हटाने का फैसला किया है, जिससे इसे लेकर कोई और गलतफहमी ना हो.'

गोपी ने आगे कहा, 'हमने मर्दानी 2 को बहुत अच्छे से कोटा शहर में शूट किया है. हमें वहां के लोगों और अथॉरिटीज से ढेर सारा प्यारा और साथ मिला था. यश राज का ये फैसला कोटा और उसके बढ़िया लोगों को सम्मान दिखाने का तरीका है.'

फिल्म मर्दानी 2 के बारे में बात करते हुए डायरेक्टर गोपी पुथरन ने बताया कि ये हमारे देश में होने वाले दर्दनाक क्राइम के बारे में है. उन्होंने कहा, 'मर्दानी 2 हमारे समाज में रेप और दिल दहला देने वाले क्राइम को दर्शाती है. एक राइटर के तौर पर मैं आज के भारत और आज के युवाओं के चेहरों पर प्रकाश डालना चाहता था. मैं पिछले 4 साल में भारत में हुई कई हादसों से परेशान था और इन अपराधों की गुत्थी ने मुझे अचंभित कर दिया था. एक इंसान के तौर पर मुझे इनके बारे में पढ़कर डर लगा था और मैं इसके बारे में जागरुकता फैलाकर अपना योगदान देना चाहता था.

इसके अलावा गोपी पुथरन ने कहा कि मर्दानी 2 आखिरकार एक फिल्म है और कोई डॉक्यूमेंट्री नहीं है. इसे एक फिल्म के तौर पर ही देखा जाना चाहिए.

क्या है मामला?

बता दें कि फिल्म मर्दानी 2 के ट्रेलर में कोटा को कोचिंग सिटी बताते हुए देशभर से विद्यार्थियों के आने की बात की है. इसके साथ ही कोटा में महिलाओं से रेप की बात को भी बताया गया है. इसे देखने के बाद कोटा के लोगों ने विरोध जताया था. उनका कहना था कि इस काल्पनिक कथा में कोटा का नाम नहीं लिया जाना चाहिए. इस फिल्म से कोटा का नाम बदनाम होगा और इसीलिए इससे कोटा का नाम हटाया जाए.

लोकसभा अध्यक्ष से की थी अपील

कोटा पहुंचे लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को फिल्म मर्दानी 2 के विरोध में कई संगठनों के प्रतिनिधियों ने ज्ञापन सौंपकर इस फिल्म पर तुरंत कार्यवाही करने की मांग की थी. इस पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा था कि वे निश्चित रूप से इस पर चर्चा करेंगे. किसी भी शहर को फिल्मों के माध्यम से बदनाम करने का किसी को अधिकार नहीं है.

रानी मुखर्जी की फिल्म मर्दानी 2, साल 2014 में आई फिल्म मर्दानी का सीक्वल है. इस फिल्म में रानी मुखर्जी इंस्पेक्टर शिवानी शिवाजी रॉय का किरदार निभा रही हैं. ये फिल्म 13 दिसंबर को रिलीज होगी.

Read more!

RECOMMENDED