भावुक हुए मनोज बाजपेयी, कहा- मेरा 'पद्मश्री' मुझे मिल गया है

एक्टर मनोज बाजपेयी ने दिल्ली में अपने थिएटर गुरु बैरी जॉन को अपनी फिल्म 'अलीगढ़' दिखाई. फिल्म देखने के बाद अपने गुरु के इमोशनल रिएक्शन पर बाजपेयी ने कहा कि मुझे मेरा 'पद्मश्री' मिल गया है.

मनोज बाजपेयी
स्वाति गुप्ता/आर जे आलोक
  • मुंबई,
  • 16 फरवरी 2016,
  • अपडेटेड 2:24 PM IST

एक्टर मनोज बाजपेयी को 'पद्मश्री' अवॉर्ड मिल गया है, लेकिन भारत सरकार की तरफ से नहीं बल्कि उनके गुरु की तरफ से.

दरअसल, पिछले दिनों मनोज बाजपेयी ने दिल्ली में अपने थिएटर गुरु बैरी जॉन को अपनी फिल्म 'अलीगढ़' दिखाई और फिल्म देखने के बाद बैरी का रिएक्शन हमसे शेयर किया. मनोज ने बताया कि मैं 2 लोगों के रिक्शन को महत्व देता हूं, एक हैं अनुराग कश्यप और दूसरे हैं बैरी जॉन.

मनोज बाजपेयी ने बताया कि मैं अनुराग को अभी तक फिल्म नहीं दिखा पाया हूं, लेकिन बैरी के लिए स्पेशल स्क्रीनिंग रखी थी, और फिल्म देखने के बाद जब बैरी बाहर निकले तो उनकी आंखों में आंसू थे.

मैंने उन्हें कभी भी रोते हुए नहीं देखा था, लेकिन ऐसा पहली बार ऐसा हुआ कि वो बाहर आए और मुझसे गले मिलकर लगभग 15 मिनट तक रोते रहे. इसके बाद वो बिना कुछ कहे ही चले गए, फिर 2 दिनों के बाद उनका एक मेल आया, जो पर्सनल है लेकिन मैं बस यही कहना चाहूंगा की उनका मेल पढ़कर मुझे लगा की मेरा 'पद्मश्री' मिल गया.'

बता दें कि मनोज बाजपेयी की फिल्म 'अलीगढ़' एक असल जिंदगी से प्रेरित कहानी है जो 26 फरवरी 2016 को रिलीज होगी.

Read more!

RECOMMENDED