करण जौहर की फिल्मों में क्यों होता है रोना-धोना, पहली बार दिया जवाब

इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में मशहूर डायरेक्टर करण जौहर ने शिरकत की. फिल्ममेकर करण जौहर ने पहली बार बताया कि क्यों उनकी फिल्मों में रोना धोना होता है. करण का कहना है कि उन्हें हमेशा से मेलोड्रामा पसंद रहा है.

करण जौहर
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 20 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 9:04 PM IST

इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में मशहूर डायरेक्टर करण जौहर ने शिरकत की. सेशन The Dream Maker: Karan Johar on ruling Bollywood को सुशांत मेहता ने मॉडरेट किया. करण जौहर ने पहली बार बताया कि क्यों उनकी फिल्मों में रोना धोना होता है. करण का कहना है कि उन्हें हमेशा से मेलोड्रामा पसंद रहा है.

करण जौहर ने कहा- "मैं हमेशा मेलोड्रामेटिक पर्सन रहा हूं. ये मेरे DNA में है. मैं इसमें कुछ नहीं कर सकता हूं. मुझे एक बार आदित्य चोपड़ा ने कहा था कि क्यों तुम फिल्मों में नहीं हो. तुम्हारे कई ज्यादा ड्रामैटिक हो. तुम्हारे अंदर एक ड्रामा क्वीन है. तुम इंडियन फिल्म बनाने के लिए ही बने हो. मुझे टिपिकल इंडियन सिनेमा पसंद आता है."

''मैं अपनी सीमाओं को बढ़ाना चाहता हूं. मैं एक डाई हार्ड हिंदी मूवी लवर हूं. कभी खुशी कभी गम स्टाइल की डायरेक्शन ने मुझे छोड़ा नहीं है. कुछ लोगों को मेरा सिनेमा पसंद नहीं आता है. कुछ लोगों को फिल्म ए दिल है मुश्किल पसंद नहीं आई थी, मगर कई लोगों को मूवी रास नहीं आई. ए दिल है मुश्किल दिल मेरे दिल के काफी करीब थी. इसे मैंने दिल से बनाया था. अगर आप मुझसे पूछेंगे कि मेरी कौन सी मोस्ट प्लेजरेबल फिल्म है तो मैं ए दिल है मुश्किल का नाम लूंगा.''

कॉन्क्लेव में करण जौहर ने शाहरुख खान को बेस्ट एक्टर और फिल्म इंडस्ट्री का सबसे अट्रैक्टिव पर्सन बताया. इस दौरान जब करण जौहर से पूछा गया कि रणबीर कपूर और रणवीर सिंह में से कौन बेस्ट एक्टर है तो करण की बोलती बंद हो गई. करण जौहर इस सवाल का जवाब नहीं दे पाए.

Read more!

RECOMMENDED