17 साल चला कैंसर से संघर्ष, आखिरकार जिंदगी की जंग हार बैठी ये सिंगर

80 और 90 के दौर की हॉ़लीवुड की मशहूर सिंगर मैरी फ्रेडरिक्सन का 61 साल की उम्र में निधन हो गया है. वे अपने ब्रेन ट्यूमर के इलाज के लिए रेडिएशन ट्रीटमेंट से गुजर रही थीं.

मैरी फ्रेडरिक्सन सोर्स इंस्टाग्राम
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 11 दिसंबर 2019,
  • अपडेटेड 12:52 AM IST

80 और 90 के दौर की हॉ़लीवुड की मशहूर सिंगर मैरी फ्रेडरिक्सन का 61 साल की उम्र में निधन हो गया है. वे अपने ब्रेन ट्यूमर के इलाज के लिए रेडिएशन ट्रीटमेंट से गुजर रही थीं. कई पॉप सॉन्ग्स के सहारे शोहरत हासिल करने वाली मैरी के लिए पिछला एक दशक से भी ज्यादा का समय काफी चुनौतीपूर्ण रहा है. रिपोर्ट्स के अनुसार, मैरी के परिवार वालों ने एक आधिकारिक बयान में सिंगर के निधन की घोषणा की है. वे पिछले 17 सालों से कैंसर से लड़ रही थीं.

साल 2002 में ब्रेन ट्यूमर का पता चला था

इस सिंगर के फैंस इस खबर के बाद शॉक में हैं. इससे पहले साल 2002 में खबर आई थी कि मैरी को बाथरुम में गिरने की वजह से चोटें आई थी. उस दौरान उन्हें सर में चोट लगी थी और मेडिकल ट्रीटमेंट के बाद पता चला था कि सिंगर को ब्रेन ट्यूमर है. रिपोर्ट्स के अनुसार, मैरी को बचने के सिर्फ 25 प्रतिशत चांस बताए गए थे. मैरी ने इसके बाद रेडिएशन ट्रीटमेंट का सहारा लिया था.

हालांकि उन्होंने साल 2016 तक परफॉ़र्म करना जारी रखा था और कई सालों बाद उन्होंने इस साल ये घोषणा की थी कि वे अपनी बीमारी के चलते परफॉर्म नहीं कर पाएंगी. मैरी की मौत के बाद दुनिया भर से उनके फैंस उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं. उन्होंने फेडिंग लाइक ए फ्लावर, लिस्टन टू योर हार्ट, स्लीपिंग इन माई कार जैसे कई लोकप्रिय सॉन्ग्स को अपनी आवाज दी है और उन्हें 80 के दौर की सबसे कामयाब सिंगर्स में शुमार किया जाता था.

Read more!

RECOMMENDED