शाह बोले- PM के कहने पर पुलिस ने शरजील के खिलाफ दर्ज किया देशद्रोह का केस

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धार्मिक प्रताड़ित अल्पसंख्यकों के लिए प्रधानमंत्री  CAA लेकर आएं. इस पर केजरीवाल बोलते हैं कि भाजपा को पाकिस्तानियों की चिंता है.

गृहमंत्री अमित शाह (फोटो-BJP के ट्विटर हैंडल से ) गृहमंत्री अमित शाह (फोटो-BJP के ट्विटर हैंडल से )
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 27 जनवरी 2020,
  • अपडेटेड 8:23 PM IST

  • गृह मंत्री अमित शाह ने रिठाला में की जनसभा
  • केजरीवाल सरकार पर जमकर बोला हमला

केंद्रीय गृह मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह ने जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के छात्र शरजील इमाम पर निशाना साधा. दिल्ली के रिठाला में सोमवार को चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि आपने शरजील इमाम का एक वीडियो देखा होगा, जिसमें वह नॉर्थ-ईस्ट को भारत से अलग करने की बात करता है. उसने देश को बांटने की बात की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली पुलिस को उसके खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज करने का कहा. पीएम मोदी के कहने पर पुलिस ने उसके खिलाफ केस दर्ज किया है. शाह ने कहा 'मोदी सरकार में ये अधिकार सबको है, केजरीवाल जी आपको भी है, गाली देनी है तो हमें दे दो या हमारी पार्टी को दे दो, लेकिन अगर कोई भारत माता के टुकड़े करने की बात करेगा, तो आपको जेल की सलाखों के पीछे जाना पड़ेगा.'

नारे लगाने वालों को पीएम ने जेल में डाला

अमित शाह ने कहा कि कुछ समय पहले JNU में  'भारत तेरे टुकड़े हो एक हजार' नारे लगे थे. प्रधानमंत्री ने इन नारे लगाने वालों को उठाकर जेल में डाल दिया, लेकिन ये कहते हैं कि उन्हें वाणी की स्वतंत्रता का अधिकार है.

बाबा रामदेव बोले- मुस्लिमों के खिलाफ भ्रम फैला रहे सियासी दल

शाह ने कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धार्मिक प्रताड़ित अल्पसंख्यकों के लिए प्रधानमंत्री  CAA लेकर आएं. इस पर केजरीवाल बोलते हैं कि भाजपा को पाकिस्तानियों की चिंता है. जब से विभाजन हुआ है तब से दिल्ली में लाखों शरणार्थी आए हैं, वो लोग हमारे हैं. हमारे भाई-बहन हैं. उनकों आप पाकिस्तानी कहते हो, शर्म आनी चाहिए. 

डर था कि मोदी सरकार से जुड़ जाएगा गरीब

केजरीवाल पर हमला बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि राजनीति करने वाले तो बहुत देखे हैं, मगर इतनी ओछी और नीची राजनीति करने वाला मुख्यमंत्री मैंने अपने जीवन में नहीं देखा. दिल्ली के करोड़ों गरीबों को 5 लाख की योजना से उन्होंने अलग-थलग कर दिया.

अमित शाह ने कहा कि मैं केजरीवाल से पूछना चाहता हूं कि दिल्ली के गरीबों का क्या दोष था कि आपने जो 5 लाख रुपये की सहायता प्रधानमंत्री उनको देना चाहते थे, उसे उनसे छीन लिया. शाह ने कहा कि उनके मन में भय था कि अगर किसी गरीब का फ्री ऑपरेशन हो जाएगा तो दिल्ली का गरीब मोदी सरकार के साथ जुड़ जाएगा.

Read more!

RECOMMENDED