पश्चिम बंगाल: ममता बनर्जी की कविता पढ़ेंगे स्टूडेंट, सिलेबस में होगी शामिल

पश्चिम बंगाल में अब स्कूली बच्चों को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की लिखी हुई कविता पढ़ाई जाएगी. बोर्ड इस कविता को नए सेलेबस में शामिल करने जा रहा है.

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी (फाइल फोटो)
मोहित पारीक
  • नई दिल्ली,
  • 01 जनवरी 2019,
  • अपडेटेड 2:10 PM IST

पश्चिम बंगाल में सिंगूर भूमि आंदोलन को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने के बाद अब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी सेलेबस का हिस्सा बनने जा रही हैं. रिपोर्ट्स के अनुसार, पश्चिम बंगाल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ममता बनर्जी की लिखी गई कविता को पाठ्यक्रम में शामिल करने की तैयारी कर रहा है.

बताया जा रहा है कि बनर्जी द्वारा लिखी गई कविता को 'सेफ ड्राइव, सेव लाइफ' कैंपेन को बढ़ावा देने के लिए शामिल किया जाएगा. इस कविता के माध्यम से सड़क नियमों के प्रति जागरुकता लाने के लिए स्टूडेंट्स को यह कविता पढ़ाई जाएगी. वहीं ममता बनर्जी ने प्रदेश के 'कन्याश्री' प्रोजेक्ट के लिए एक गाना भी लिखा है, जिसे भी स्टूडेंट्स के नए प्लान में शामिल किया जाएगा.

ममता का न्यू ईयर गिफ्ट, किसानों को प्रति एकड़ के हिसाब से मिलेंगे 5000

फिजिकल एजुकेशन के पाठ्यक्रम में टीचर्स को 'सेफ ड्राइव सेव लाइफ' थीम कविता पढ़ाने के लिए कहा गया है. 2016 में अभियान की शुरुआत करते हुए बनर्जी ने कहा था कि इसका उद्देश्य नागरिक समाज, पुलिस, परिवहन, स्वास्थ्य, सड़क और अन्य सरकारी विभागों और गैर सरकारी संगठनों के बीच सामंजस्य स्थापित करना है ताकि लोगों को सुरक्षित ड्राइविंग और सड़क सुरक्षा के विभिन्न पहलुओं को लेकर संवेदनशील बनाया जा सके.

राजस्थान: अब होगा कांग्रेस वाला इतिहास! क्या फिर बदलेंगी किताबें?

अपने नेता को ऑल-राउंडर बताते हुए टीएमसी सांसद इद्रीस अली ने कहा कि यह वास्तव में एक शानदार कदम है. हमारे सीएम ने कई किताबें लिखी हैं, इतनी कविताएं लिखी हैं और हमें उन पर गर्व है. हालांकि, विपक्ष बीजेपी ने इसे सार्वजनिक धन का दुरुपयोग करार देते हुए इस प्रयास का मजाक उड़ाया है.

Read more!

RECOMMENDED