NEET 2018: एंट्रेंस एग्जाम से पहले जरूर जान लें ये 12 जरूरी बातें

नीट की परीक्षा देश के कठिन परीक्षा में से एक मानी जाती है. अगर आप इस परीक्षा में सफल होना चाहते हैं तो पहले जानें ये 12 जरूरी प्वाइंट्स.

प्रतीकात्मक फोटो
प्रियंका शर्मा
  • नई दिल्ली,
  • 09 फरवरी 2018,
  • अपडेटेड 6:23 PM IST

MBBS और BDS में एडमिशन के लिए आयोजित होने वाली राष्ट्रीय पात्रता और प्रवेश परीक्षा (NEET-2018) का नोटिफिकेशन जारी हो गया है. परीक्षा 6 मई (रविवार) को आयोजित की जाएगी. नीट की परीक्षा देश के कठिन परीक्षा में से एक मानी जाती है. अगर आप चाहते हैं एंट्रेंस परीक्षा में किसी भी तरह की परेशानी न हो. इसके लिए पहले जरूर जान लें ये 12 जरूरी बातें.

- नीट की प्रवेश परीक्षा के लिए उम्मीदवार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 9 मार्च 2018 तक कर सकते हैं.

NEET-2018 की परीक्षा का नोटिफिकेशन जारी, 6 मई को होगा एग्जाम

- उम्मीदवार परीक्षा की फीस 8 मार्च से 10 मार्च 2018 तक जमा कर सकते हैं.

- ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की फीस जनरल कैटेगरी के लिए 1400 रुपये है, वहीं SC और ST कैटेगरी के लिए 750 रुपये फीस तय की गई है.

- ये नीट की परीक्षा AIIMS और JIPMER पुदुचेरी जैसे चुनिंदा संस्थानों को छोड़कर देश के सभी मेडिकल संस्थानों में MBBS/BDS में ये परीक्षा आयोजित की जाती है.

- जो छात्र NRI है. उसे रजिस्ट्रेशन करने के लिए पासपोर्ट नंबर देना जरूरी होगा.

NEET 2018 : ऐसे करें तैयारी, पाएं कामयाबी

- उम्मीदवार CBSE की ओर से जारी नोटिफिकेशन को www.cbseneet.nic.in पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं.

- नीट- 2018 के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को आधार नंबर देना जरूरी है.

- CBSE ने नीट के सिलेबस में कोई बदलाव नहीं किया है. ये परीक्षा पिछले आयोजित परीक्षा की तरह ही होगी.

- नीट परीक्षा के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा परीक्षा की तिथि तक 17 से 25 साल के बीच होनी चाहिए. हालांकि, एससी, एसटी, ओबीसी और दिव्यांगों के लिए यह उम्र सीमा 30 साल तक की तय की गई है.

- फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी , बायोटेक्नलॉजी और इंग्लिश में 50 फीसदी मार्क्स के साथ 12वीं कक्षा पास करने वाला उम्मीदवार नीट की परीक्षा के लिए आवेदन कर सकता है.

CCTV निगरानी में UP बोर्ड की परीक्षा, 2 दिन में 5 लाख छात्र नदारद

- इस साल सभी नीट की परीक्षा देने वाले सभी उम्मीदवारों का एक ही प्रश्न पत्र होगा.

- NEET-2018 के लिए छात्रों के पास आधार नंबर होना जरूरी है. लेकिन जम्मू-कश्मीर, असम और मेघालय के छात्रों को इससे छूट दी गई है यानी यह नियम उन पर लागू नहीं होगा.

Read more!

RECOMMENDED