सेंगर पर शिकंजा, पीड़िता के पिता की हत्या मामले में कोर्ट ने बनाया आरोपी

कोर्ट ने कहा कि ये पूरा षडयंत्र सिर्फ इसलिए रचा गया ताकि पीड़िता इस मामले में अपनी शिकायत दर्ज न कर पाए.

उन्नाव रेप केस का आरोपी कुलदीप सेंगर (IANS)
पूनम शर्मा
  • नई दिल्ली,
  • 13 अगस्त 2019,
  • अपडेटेड 6:22 PM IST

उन्नाव रेप केस के आरोपी और विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर कानून का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है. दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने उन्नाव रेप केस की पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में कुलदीप सेंगर को आरोपी बनाया है.

मंगलवार को दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में सुनवाई के दौरान कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि पीड़िता के पिता को मारा गया, इस दौरान 18 जगह चोट आने की वजह से घटना के चौथे दिन उनकी मृत्यु हो गई. कोर्ट ने कहा कि ये पूरा षडयंत्र सिर्फ इसलिए रचा गया ताकि पीड़िता इस मामले में अपनी शिकायत दर्ज न कर पाए. कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में कहा कि पुलिस ने जिस दौरान पीड़िता के पिता को पीटा, उस वक्त के गवाहों के बयान से साफ है कि सेंगर पुलिस के संपर्क में था.

दूसरी ओर, सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार से उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता और उसके परिजनों के खिलाफ दायर 20 से अधिक मामलों पर रिपोर्ट मांगने से मंगलवार को इनकार कर दिया. उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है. जस्टिस दीपक गुप्ता की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने कहा कि पीठ मामले का दायरा नहीं बढ़ाना चाहती है. उन्होंने कहा, "दुष्कर्म पीड़िता और उसके परिवार के खिलाफ दर्ज अन्य मामलों में पीठ हस्तक्षेप नहीं करना चाहती है."

पीठ ने यह बात उस वक्त की जब एक वकील ने दुष्कर्म पीड़िता और उसके परिजनों के लंबित पड़े मामलों के बारे में बात की. अदालत ने कहा कि वह पीड़िता से जुड़े पहले के उन पांच मामलों में ध्यान केंद्रित करना चाहती है, जिनमें सुनवाई की गई थी. मामले में आगे की सुनवाई सोमवार तक के लिए टाल दी गई है.

Read more!

RECOMMENDED