हैवानियत की हद: पीड़िता के मुंह में अंगूठी डाल, गले की नस खाने लगा रेपिस्ट

पीड़िता चार साल से इस खतरनाक अपराधी से पीड़ित थी. 2013 में भी वह पीड़िता का रेप कर चुका है. लेकिन तब पीड़िता ने चुप रहना उचित समझा. लेकिन इस बार जब उसने पीड़िता का रेप किया तो बर्बरता की सारी हदें पार कर दीं.

इंग्लैंड के वेल्स में घटी खौफनाक वारदात
आशुतोष कुमार मौर्य
  • वेल्स,
  • 17 दिसंबर 2017,
  • अपडेटेड 4:47 PM IST

इंग्लैंड के वेल्स में एक ऐसे खतरनाक रेपिस्ट का खुलासा हुआ है, जिसकी हरकतें सुन किसी भी रूह कांप उठे. कोर्ट ने रेपिस्ट को 10 साल की सजा सुनाई है और सजा पूरी करने के बाद कभी भी पीड़िता से संपर्क न करने की चेतावनी दी है.

पीड़िता के बयान के मुताबिक, यह रेपिस्ट इतना खतरनाक था कि रेप के दौरान वह दांतों से पीड़िता के गले की नस काटकर बाहर निकाल देना चाहता था. दरअसल यह खतरनाक रेपिस्ट पहले भी ऐसी वारदातें कर चुका है. उसे 2006 में 18 वर्षीय लड़की को ईंट से मारकर बुरी तरह घायल करने के अपराध में भी सजा हो चुकी है.

पीड़िता चार साल से इस खतरनाक अपराधी से पीड़ित थी. 2013 में भी वह पीड़िता का रेप कर चुका है. लेकिन तब पीड़िता ने चुप रहना उचित समझा. लेकिन इस बार जब उसने पीड़िता का रेप किया तो बर्बरता की सारी हदें पार कर दीं.

रेप के दौरान उसने पीड़िता के गले में पहनी चेन के जरिए गला घोंटकर हत्या करने की भी कोशिश की. यहां तक कि उसने एक अंगूठी पीड़िता के गले के अंदर डालकर उसकी सांसें रोकने की भी कोशिश की.

पीड़िता ने हालांकि उसके चेहरे पर वार कर किसी तरह खुद को छुड़ाया और पुलिस में उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई. पीड़िता के अंदर रेपिस्ट का खौफ इस कदर हावी थी कि वह सुनवाई के दौरन भी उसे नहीं देखना चाहती थी.

पीड़िता ने बताया कि पिछली वारदात के बाद वह सात महीने तक घर से बाहर नहीं निकल सकी थी. कोर्ट ने जब पीड़िता को मुआवजे की पेशकश की तो उसने ठुकराते हुए कहा कि अगर मैं इसे स्वीकार करती हूं तो खुद को वैश्या महसूस करूंगी .

पीड़िता ने सुनवाई के दौरान रेपिस्ट को 'शैतान' तक कह डाला और कहा कि वह चाहती है कि अपराधी जेल में ही मर जाए. पीड़िता ने कहा कि मैं उसकी हत्या नहीं करना चाहती और न ही यह चाहती हूं कि कोई दूसरा उसकी हत्या कर दे, लेकिन मैं उसे जेल के बाहर जिंदा नहीं देखना चाहती.

कोर्ट ने अपराधी को 10 साल जेल की सजा सुनाई है. जेल से बाहर आने के बाद उस पर पीड़िता से संपर्क करने से प्रतिबंध लगाया गया है. साथ ही उसे जेल से बाहर आने के बाद भी सेक्स ऑफेंडर रजिस्टर में साइन करने के लिए कहा गया है.

पीड़िता ने हालांकि 10 साल की सजा दिए जाने पर हताशा व्यक्त की. पीड़िता ने कहा कि उसे उम्मीद थी कि अपराधी को कम से कम 17 साल जेल की सजा सुनाई जाएगी, क्योंकि वह एक शैतान है और सार्वजनिक जीवन के लिए खतरा है.

Read more!

RECOMMENDED